Showing posts with label Mobile Knowledge. Show all posts
Showing posts with label Mobile Knowledge. Show all posts

Sunday, October 21, 2018

,

      Fully  flikk app review in Hindi

मैं आप सभी का स्वागत करता हूँ मेरे इस ब्लॉग पर आज मैं आपके लिए एक money earning app का review लेकर आया हूँ। जिससे आप बहुत सारे रिचार्ज प्राप्त कर सकते हैं ये एप्प्स आपके प्ले स्टोर भी उपलब्ध है। आप इस को वहां जाकर डाउनलोड कर सकते हैं और यदि आप वहां नही जाना चाहते तो यहां क्लिक करके डाउनलोड कर सकते है। 
दोस्तों एक बात मैं आपको ये बता दू की इस एप्प का इस्तेमाल मैं खुद करता हूँ और हर 15 दिन में रिचार्ज प्राप्त करता हूँ। इसके लिए आपको इंटरनेट की कोई जरूरत नहीं है आपको जरूरत तब पड़ेगी जब आप इसके क्विज,शेयर और रिचार्ज के ऑप्सन को अपनाना चाहेंगे। इससे आप हर 15 दिन में फ्री में 10 रुपया का रिचार्ज प्राप्त कर सकते हैं।
ये एक लॉक स्क्रीन एप्प है जो की फोन के लॉक होने पर जब आप खोलते है तो वालपेपर सो करता है। जिसको आप डाउनलोड भी कर सकते है। साथ ही साथ क्विज खेलकर अधिक पैसे कमा सकते है।   
तो चलिए बताते हैं ये पैसे कैसे आपको pay करता है।
इस एप्प्स को सबसे पहले आपको डाउनलोड करना होगा फिर आपको उसमें रजिस्टर करना होगा रजिस्टर करने के बाद आपको वहां पर कई ऑपसंस दिखेंगे जिनसे आप पैसे कमा सकते हैं।
वे ऑपसन्स कौन कौन से होंगे चलिए हम बताते हैं।
1. शुरू में सबसे पहला ऑपसन्स दिखेगा जिसमें आपका वॉलेट बेलेंस होगा। इससे आप अपनी अर्निंग चेक कर सकते हैं।
2. दूसरा आपको quiz का ऑपसन्स दिखेगा जिसमें आप क्विज खेलकर पैसे कमा सकते हैं। इसमें आपको 50 रुपये मिलते हैं।
3. शेयर करके भी आप पैसे कमा सकते हैं अपने दोस्तों यारों के साथ। इसमे आपको एक दिन में 80 रुपये तक कमाने का मौका मिलता है। शेयर से।
4. अब आप अपने बेलेंस को चेक कर के रिचार्ज कर सकते हैं याद रहे बेलेंस 10 रुपया से अधिक हो। तथा आपको अपने बेलेंस का रिचार्ज 15 दिनों के बाद यानी ठीक 15 वें दिन ही करना है नहीं तो आपका रिचार्ज डेट फिर से 15 दिनों के लिए बढ़ जाता है।
अब आपको अपने क्विज के बारे में कुछ रूल्स जो हैं  FLIKK के उसके बारे में बताते हैं।
उसका पहला रुल ये है -
1. यह हर टॉप स्कोरर को 50 रुपये का इनाम देता है। लेकिन किसमें आपके paytm wallet के थ्रू आपको इनाम दिया जाता है।
2.  कितने लोगों को ये इनाम दिया जाता है। ये इनाम सिर्फ 24 यूजर्स को दिया जाता है।
3. आप हर घण्टे में एक क्विज खेल सकते हैं। ये अपने करेक्ट टाइम मे स्टार्ट होता है।
4. अगर आप जो क्विज खेलते है और उसको जीत जाते हैं तो आपको next क्विज के लिए अगले दिन का इंतजार करना पड़ता है।
5. आपको इस क्विज़ के दौरान अधिकतम 20 प्रश्न पूछे जाते हैं।
6. इसके आपको उत्तर देने के लिए 10 सेकण्ड का समय दिया जाता है।
7. आपको अपने उत्तर सलेक्ट करने के लिए आपको चार ऑप्सन दिए जाते हैं।
8. जिनसे आप सहीं उत्तर चुन सकते हैं।
9. आपके सहीं उत्तर चुनने पर आपको +10 पॉइंट दिए जाते हैं। और गलत उत्तर चुनने पर आपको अपने पॉइंट से -5 पॉइंट गवाना पड़ता है। अगर आप कुछ भी ऑप्सन सलेक्ट नहीं करते हैं तो आपको 0 पॉइंट दिए जाते हैं।
10. अगर आप क्विज खेलते समय गलती से भी या जान बुझ कर क्विज से बाहर आ जाते हैं तो आप क्विज़ से बाहर या दुबारा भाग नहीं ले सकते है। आपको फिर से एक घण्टा का वेट करना होगा।
11. अगर दो समान यूजर एक समान अंक पाते है तो उन्हें अनुमान के हिसाब से प्राइज दिया जाता है।
12. अब आपका ये सवाल मन में गूंज रहा होगा की क्विज खेलना तो आसान है मगर पता कैसे चलेगा की विनर कौन है।
इस  क्विज के विनर का अनाउंसमेंट आपको हर घण्टे के 10 मिनट बाद मिल जाता है।
13. आपको इस क्विज को सफल रूप से खेलने के लिए पूर्ण रूप से इंटरनेट पर कनेक्ट होना होगा।
14. आपको रिवार्ड पॉइंट नहीं दिया जाता अगर आप इंटरनेट से कनेक्ट नहीं होते हैं तो।
15. इसके फाइनल विजेता की घोषणा का अधिकार पूर्ण रूप से flikk द्वारा नियंत्रित होता है।
16. इस के अन्य नियमों के जानकारी के लिए आप चाहे तो इसके टर्म और कंडीसन देख सकते हैं। में मानता हूँ की इतना सारा नियम पढ़कर आपको समझ में आ गया होगा की ये एप्प कैसा है। 
           
               अन्य जानकारियों के लिए मेनु में जाकर लेबल से आप अपना पसन्दीदा टॉपिक चुन कर देख सकते हैं।
thanks so much for supporting me

Saturday, October 20, 2018

,

 How to use chrome browser and review of google chrome

आजकल सभी एंड्रॉइड मोबइल फोन में chrome या google chrome नाम का ब्राउज़र होता ही है तो दोस्तों इसके फीचर को देख कर मुझे लगा की इसके बारे में कुछ लिखना चाहिए तो चलिए आज में आपको बताता हूँ इसके बारे में।

Google friendly

            
दोस्तों ये ऐसा ब्राउजर जो की हमेसा आपके गूगल अकॉउंट से connect रहता है। आप चाहे तो इसमे अपना पासवर्ड सेव रख सकते है जिससे आपको दुबारा लोगिन करने के समय कोई परेशानी नहीं होगी आप इसका प्रयोग कर सकते है। ये ब्राउजर गूगल से फुल्ली कनेक्ट रहता है जिस कारण से आप कोई भी सर्च आसानी से कर सकते है। इसमे गूगल सर्च करने के समय अन्य ऑप्शन भी देता है। जिसको आप सर्च कर सकते हैं। इसका प्रयोग कर गूगल अनुवाद भी कर सकते हैं।

Page save options

दोस्तों आप इसका प्रयोग करके गूगल में जिस पेज को चाहें उस पेज को सेव कर सकते हैं। इसमें ज्यादा mb नही खत्म होता है। आप बाद में भी इसका उपयोग किसी चीज को पढ़ने और देखने के लिए कर सकते हैं।

Page share ka options

इस ब्राउजर का उपयोग कर आप जिस पेज को चाहे शेयर कर सकते हैं। इसमे बड़ा ही आसान सा फीचर है। इस पेज की मदद से किसी दूसरे को गाइड कर सकते हैं।

Incognito browsing

इस ब्राउज़र का उपयोग कर आप बहुत ही आसानी से अपनी पर्शनल सर्च कर सकते हैं इसमे आपका कोई भी हिस्ट्री सेव नही होता है जिससे आपको कोई भी खतरा नहीं होता है। जैसे की आप यदि कोई भी बैंक अकॉउंट सर्च कर रहें है तो उसमे पासवर्ड डालते समय कुछ कुकि का बनना आदि ये काम इस मोड़ मे नहीं होता है और आप सेफ ब्रावजिंग करते हैं।

Kisi bhi bookmark ko home screen par sew kar sakte hai.

इस app का यूज करने का सबसे बड़ा फायदा ये है की आप किसी भी बुकमार्क को अपने होम स्क्रीन पर सेव कर सकते हैं जिससे आप जल्दी ही उसे सर्च कर सकते हैं।

Find in page

इस फीचर का उपयोग कर किसी भी पेज के मेन पाइंट पर जाया जा सकता है। इस फीचर का उपयोग किसी भी शब्द को ढूंढने में किया जा सकता है।

Zoom option

यह खास फीचर है जिसका उपयोग आप किसी भी इमेज या पेज को जुम करने के लिए कर सकते हैं।

Desktop option


इस ऑप्शन का उपयोग आप किसी भी पेज को computer में देखने के जैसे कर सकते हैं। और आप किसी भी पेज को डेस्कटॉप जैसे देख सकते हैं।

New tab and minimize option

दोस्तों इस एप्प का ये एक खास फीचर है जो की कंप्यूटर ब्राउज़र से मिलता जुलता है। आप इस फीचर का प्रयोग करके कभी भी किसी पेज में जा सकते हैं और फीर वापिस आ सकते हैं।

sort tab search

आप इस ऑप्शन का उपयोग करगे किसी भी वर्ड को या पुरे किसी वाक्य को ढूंढ सकते हैं इसमे आपको कुछ समय के लिए उस वर्ड या वाक्य पर बस होल्ड करना है। ध्यान रखे एकदम ज्यादा देर तक यदि आप होल्ड करते हैं तो आपको आपके स्क्रीन पर copy and paste का ऑप्शन दिख सकता है।

site information

इस एप्प के मेनूबार को दबाने पर एक विस्मयादि बोधक चिन्ह के समान आइकन होता है उसी से आप किसी भी साइट का बिहेवियर पढ़ सकते हैं। साइट का आप बिहेवियर पढ़ सकते हैं।

search engine change karne ka option

इस एप्प की सेटिंग के माध्यम से आप अपने सर्च इंजन का एड्रेस बदल सकते हैं दोस्तों इसमें लगभग 6 -7 सर्च इंजन का ऑप्शन होता है।
दोस्तों आपको इस एप्प के बारे में  और अधिक जानकारी हो तो कमेंट के माध्यम से शेयर कर सकते हैं।

Saturday, September 29, 2018

,

नकली मोबाइल की पहचान कैसे करें


दोस्त आपका स्वागत है मैं ये जानकारी आपके लिए इसलिए लिख रहा हु की आप किसी भी के पास धोखा ना खाये और पैसे बर्बाद ना करे क्योंकि आप जो मेहनत करते है आपको ही पता होता है की कितनी मेहनत के बाद ही पैसे आते है।
दोस्तों मैं एक बार खुद ऐसे लोगों के झासे में आ गया था और मैं भी धोखा से उस मोबईल को ले लिया था। उस मोबाइल को मेरे को samsung j7 prime है करके बताया गया था और मेरे द्वारा भी चेक करने पर उसमें J7 prime लिखा था और दोस्तों उस मोबाइल का बिल भी मुझे पेस किया गया था दोस्त उस समय मुझे ये मालूम नहीं था की मोबाइल का भी कोई लोग डुब्लीकेट व्यपार करते हैं जब मैंने उन लोगों से पूछा तो उन्होंने ने भी बताया की इसमे 4G चलेगा करके लेकिन दोस्त उस समय इतना भी दिमाग में नहीं आया की इसको अच्छे से चेक किया जाये। क्योकि जब अगर आपके पास सबूत के तौर पर पूरी रसीद हो तो आप तो उसे सहीं ही समझेंगे ना ! उन लोगो ने मुझे धोखा दिया और मैं चाहता हु की आप भी किसी से मेरी तरह धोखे में ना फसे क्योकि आज के समय में लोगो को पैसे कमाने के लिए यहीं आसान तरीका लगता है लेकिन दोस्त याद रखना जो लोग धोखे देते हैं वो कभी भी सुखी नहीं होते है क्योकि आप किसी को धोखा दोगे तो आपको भी एक ना एक दिन कोई धोखा जरूर देगा। दोस्त लोग तो यहीं कहेंगे की आपको इसकी समझ नहीं थी तो हमसे पूछ लेते लेकिन मैं बस इतना कहूँगा की अगर आप भी उस मोबाइल को देखेंगे तो आप भी कहेंगे की ये samsung का J7 prime ही है क्योकि इसको अगर आप ऊपर से और अंदर से देखते हैं तो आपको ये पता ही नही चलेगा ये हुबहु उससे मिलता जुलता model है। आपको रसीद को देख कर ही विश्वास हो जायेगा की ये मोबाइल सहीं है या नहीं आप तो जानते ही है की प्रत्यक्ष को प्रमाण की जरूरत क्या। लेकिन दोस्त बात यहीं पर खत्म नहीं होती कि लोग आपको यहीं कहकर छोड़ देते है लोग आपको पूर्ण रूप से आस्वस्त करने की कोसिश जरूर करते है। लेकिन आपको इन सब चिजों पर ध्यान नहीं देना बस आपको इतना याद रखना है की आपको कोई ठग ना सके।
तो चलिए मैं आपको बताता हूँ की कैसे लो ठग जाते है-
1. तुरन्त भरोसा कर लेते हैं उनकी मीठी मीठी बातों पर ये सबसे बड़ी गलती है।
2. रसीद दखाते ही सच मान लेते हैं।
3. अब मोबाइल को देख कर उत्साहित हो जाते हैं।
4. आपको लगता है आपको इससे अच्छा कम दर पर और कहीं मोबाईल नहीं मिलेगा।
5. आपको लेने से पहले नेट में चेक करके भी वो बताते है और आप सच मान लेते हैं लेकिन सच तो ये है की आपको वो गलत सामान बेच रहे है और नेट पर आपको सहीं समान दिखा रहें है।
6. वो आपको फूल प्रूफ बताते है और की ये माडल सहीं में SAMSUNG का है करके इसलिए लोग उनकी बातों में आ जाते हैं।
7. सस्ते में देने की बात करते है और ज्यादा दिन लिए नहीं हुआ है करके बताते हैं इसलिए आपको वे भरोसे करने लायक लगते हैं।
तो चलिए अब बाते करते हैं की कैसे उस मोबाइल का पर्दा फास करना है-
1. सबसे पहले आप मोबाइल का स्विच ऑन करते है आपको उस मोबाइल का माडल और कम्पनी का नाम बताता है। लेकिन क्या ये सहीं में इस कम्पनी का हो सकता है। इससे ये साबित नही होता की वो मोबाइल सहीं में उस कंपनी है क्योकि इसको चेंज किया जा सकता है। अब आप को लगता होगा कैसे अरे यार मोबाइल को रूट करके या उसमें अन्य किसी प्रकार का साफ्टवेयर डालकर तो ठीक है इससे आपको प्रूफ नहीं मिलता की वो मोबाइल आप जो सोच रहे हो उसी कम्पनी का है।
2. इसे चेक करने के लिए आपको सबसे पहले मोबाइल के सेटिंग में जाना होगा फिर आपको उसका अबॉउट फोन वाले ऑप्सन में जाना है। अब यहां आपको चेक करना है की ये किस मोडल का है किस कम्पनी का है। याद रखें दोस्तों आपको यहां पर उस मॉडल का नाम तो मिल जाता है जो आप सोच रहे हो लेकिन क्या आपको इससे प्रूफ होता है की सच में उसी मोडल का है। नहीं इससे ये फ्रूफ नहीं होता है। क्योकि ये भी चेंज किया जा सकता है। या वहीं मॉडल नाम डाला जा सकता है जिसे आप ढुंढ रहें हैं।
3. अब आपको चेक करने के लिए क्या बचता है एंडरॉयड वर्जन ना लेकिन ये तो अपडेट भी किया जा सकता है। या आपको जिस वाले वर्ज़न की तलास हो या आप उस मॉडल में जिस वर्जन को जानते है उसी को डाला जा सकता है। 
4. सबसे पहले तो आप कंपनी का लोगो चेक करें और समझे की सहीं मायने में ये कम्पनी का ही लोगो तो है ना आपको नकली मोबाइल में कुछ ना कुछ फर्क जरूर दिखेगा। लेकिन इससे भी आपको दोखा हो सकता है। क्योकि आज कल ऐसे ऐसे मशीन आ गए है जो सेम टु सेम आपको वैसा ही लोगो बना कर दिखा देता है।
बस हम लोग यहीं तक चेक करते है और मान लेते हैं की सच में ये उसी मॉडल का मोबाइल है जिसे मेरे पास वह आदमी बेच रहा है उसी ने लिया है और क्योकि रसीद में भी उसी का नाम होता है। इस कारण धोखा हो जाता है।
तो चलिए मैं आपको बताता हूँ की कैसे ये कन्फर्म होगा ही ये उसी मॉडल का उसी कम्पनी का मोबाइल है। जिसे आप लेना चाहते है और वह आदमी आपको उसी मॉडल है करके बेच रहा है।
1. आप मोबाइल के अबाउट फोन में जाये और Build number को चेक करें अगर सहीं मोबाइल होगा तो आपको Build number में आपका मोबाइल का मॉडल नम्बर होगा। इसके साथ और कुछ नंबर हो सकते हैं। लेकिन ये कन्फर्म है की मॉडल नम्बर जरूर होगा। आप इस नम्बर को मॉडल नम्बर से मैच करें।  यहां मिस्टेक पकड़ा जायेगा।
2. आपको और चेक करना है तो आप उसी अबाउट फोन की सेटिंग में जाकर सबसे लास्ट में build number ही होता है अगर उसमें Custom build version हो  तो उसमें भी आप देख सकते हैं उसमें आपके जिस मोबाइल कम्पनी ने उसे बनाया है उसका नाम उसमे होता ये चेंज नहीं हो सकता। आप जैसे की सेमसंग का मोबाइल देख रहें है तो उसमें सेमसंग का नाम होगा उसके बाद नंबर होगा। यदि नहीं है तो वो हेनसेट नहीं है जिसे आप लेना चाहते हैं।
3. आप इसके बाद ये प्रूफ करें की इसका IMEI number सहीं है या नहीं इसे अपने रसीद से मिलान करके चेक कर सकते हैं। अगर नहीं मिला तो जान ले की ये वो मॉडल नहीं है या ये मोबाइल तो उसी मॉडल या कम्पनी का है लेकिन इसके फीचर सेम नहीं होंगे इस तरह आप यहा धोखा खाने से बच सकते हैं। क्योकि आज कल IMEI number को भी चेंज किया जा सकता है। और जाहिर सि बात है जिसको कम्पनी से लेना नहीं पड़ता है बल्कि कम्पनी के मोबाइल खराब होने पर उसे अन्य मोबाइल पर ट्रांसफर किया जा सकता है।
यहीं तरीका बेस्ट तरीका है आपके मोबाइल के सहीं पहचान का अगर कुछ खराबी के कारण ये बदलना पड़ा कहे तो आप उसे ना मानें। हालांकि आपको उसी मॉडल का IMEI number होता है लेकिन रसीद से अगर गलत हुआ तो है।
4. अब आपको एक और आसान सा तरीका बताता हूँ आप मोबाइल का मेंनु में जा के कैमरे में एक फोटो लें और उसका डिटेल चेक करें इसमें आपको मॉडल और मेकर मिलेगा जिसमें आपके मेकर में कम्पनी का नाम होता है और मॉडल में कम्पनी के नाम के साथ मॉडल नम्बर होता है। अगर सिर्फ मॉडल नम्बर है तो फ्रॉड है। कम्पनी का नाम जिस कम्पनी का आप मोबाइल लेना चाहते हैं उसे ही यहा चेक करें और मॉडल नम्बर के साथ कम्पनी का नाम अवश्य जुड़ा होता है। अगर नहीं है तो बिल्कुल फ्रॉड है। 
5. आपको एक और बात बताता हूँ आप यदि नए मोबाइल किसी नॉन रिटेलर के पास से ले रहे हो तो आपको ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए और एक बात अगर सम्भव हो तो उस मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर से एक एप्प जरूर इंस्टॉल करें जो प्ले स्टोर में CPU-Z के नाम से है।
  इस एप्प के माध्यम से भी आप चेक कर सकते हैं की यह मोबाइल किस कम्पनी का है और इसमें कौन से प्रोशेशर, CPU का प्रयोग हुआ है आदि इसमें बहुत सारे जानकारी होते हैं।

www.Rexgin.in


तो दोस्तों ये तो थी मेरे हिसाब से मोबाइल के फ्रॉड होने या कम्पनी के फ्रॉड होने की पहचान करने की बात अगर आपको इससे सम्बंधित और भी जानकारी हो तो मुझसे कमेन्ट के माद्यम से शेयर कर सकते है जिससे बहुत सारे लोग इस प्रकार के ठगी से बच सकते हैं।
दोस्तों इसे शेयर जरूर करें जिससे ये जानकारी दूसरों तक भी पहुंच सके ।