इंटरनेट का पिता किसे कहते हैं

आज हम इंटरनेट के युग में रहते हैं। यह हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है अब हम इंटरनेट के बिना जीवन की कल्पना नहीं कर सकते। इंटरनेट उच्च विज्ञान और आधुनिक तकनीक का आविष्कार है। हम 24 घंटे इंटरनेट से जुड़े हैं। आज हम इंटरनेट की सहायता से संदेशों को पहले से अधिक तेजी से भेज और प्राप्त कर सकते हैं।

इंटरनेट क्या है

यह एक ऐसा कंप्यूटर का जाल है जिसमे सभी कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े होते है। और सूचनाओं का आदान प्रदान करते है। इंटरनेट की खीज ने मनुष्य के विकाश में अहम् रोल अदा किया है। इसकी मदद से किसी भी जानकारी को आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। इंटरनेट ने विश्व को समेत कर रख दिया है। 

इंटरनेट का पिता किसे कहते हैं

1969 में टिम बर्नर्स ली ने इंटरनेट का आविष्कार किया। भारत में इंटरनेट 1980 के दशक में आया था। इंटरनेट को ग्राफिक्स का इस्तेमाल एप्पल कंपनी ने सन् 1984 में किया जिसके कारण आज इंटरनेट में फोटो और ग्राफिक देखने को मिलता है। 

इंटरनेट का पिता किसे कहते हैं

टिम बर्नर्स-ली को इंटरनेट का पिता कहा जा सकता है क्योंकि उन्होंने www (वर्ल्ड वाइड वेब) का आविष्कार किया था जो हर वेबसाइट पर उपयोग किया जाता है। इसके अलावा, इंटरनेट पर लाखों पेज और वेबसाइट हैं, इन सभी से खोजने में आपको कई साल लगेंगे।

जब से इंटरनेट पहली बार अस्तित्व में आया तब से अब तक इंटरनेट ने एक लंबी यात्रा पूरी कर ली है। इसके अलावा, इस यात्रा के दौरान, इंटरनेट ने कई चीजों को अपनाया और अधिक उपयोगकर्ता के अनुकूल और इंटरैक्टिव बन गया। इसके अलावा, हर बड़ी और छोटी चीजें इंटरनेट पर उपलब्ध हैं जिनकी आपको आवश्यकता होती है, इंटरनेट से प्राप्त किया जा सकता है।

विंट सेर्फ को इंटरनेट के जनक में से एक माना जाता है। इन्होंने TCP/ IP के आविष्कार में योगदान दिया हैं। साथ ही इन्होंने ईमेल प्लेटफ़ॉर्म का नेतृत्व किया हैं।

TCP/ IP का मतलब ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकॉल होता है और यह संचार प्रोटोकॉल है जिसका उपयोग इंटरनेट पर नेटवर्क डिवाइस को इंटरकनेक्ट करने के लिए किया जाता है। TCP/ IP का उपयोग प्राइवेट कंप्यूटर नेटवर्क में संचार प्रोटोकॉल के रूप में भी किया जाता है।

इंटरनेट का पिता किसे कहते हैं
विंट सेर्फ

इंटरनेट का उपयोग

इंटरनेट का उपयोग विभिन्न चीजों को करने के लिए किया जा सकता है जैसे आप सीख सकते हैं, शोध कर सकते हैं, लिख सकते हैं, साझा कर सकते हैं, प्राप्त कर सकते हैं, ई-मेल कर सकते हैं और इंटरनेट पर सर्फ कर सकते हैं।

इंटरनेट के कारण, हमारे जीवन में कई परिवर्तन हुए हैं जब हमारे पास इंटरनेट नहीं था। तो पैसे भेजने या जमा करने, टिकट बुक करने आदि के लिए मेल (पत्र) भेजने के लिए कतारों में खड़ा होना पड़ता है। लेकिन इंटरनेट की मदद से ये सभी चीजें काफी आसान हो गयी हैं। साथ ही, हमें कतारों में खड़े होने और समय को बर्बाद करने की आवश्यकता नहीं है।

इंटरनेट के उपयोग से कागज का उपयोग काम हुआ है जिसके कारण पेड़ को कागज के लिए काटना काम हुआ है। हालांकि, इसमें कोई संदेह नहीं है कि इंटरनेट ने हमारे जीवन को आसान और सुविधाजनक बना दिया है लेकिन हम यह नहीं भूल सकते की इससे अतीत में कई बड़ी समस्याएं पैदा हुई हैं। और समय के साथ, हम इसके आदी होते जा रहे हैं।

और नया सबसे पुराना
Subscribe Our Newsletter