ads

meaning of blogging in hindi - ब्लॉगिंग क्या है

आपने ब्लागिंग नाम तो सुना ही होगा यह इंटरनेट की दुनिया में काफी फेमस वर्ड है। इसका उपयोग बिजनेस को ग्रोव करने  या अपने नॉलेज को शेयर करने के लिए लोग करते हैं। यह एक वेबसाइट ही है जिसमे लोग जिस बारे में एक्सपर्ट होते हैं। उस टॉपिक में ब्लॉग बनाकर उसमे आर्टिकल पोस्ट करते हैं। 

meaning of blogging in hindi - ब्लॉगिंग क्या है

ब्लॉगिंग का अर्थ एक वेबसाइट बनाकर उसमे डेली या हफ्ते में तीन से चार आर्टिकल पोस्ट करना होता हैं। ब्लॉगिंग एक ऐसा फिल्ड हैं जिसमे आपको एक्टिव रहने की आवयकता होती हैं। जिस प्रकार यूट्यूब में लोग डेली वीडियो अपलोड रहते हैं। उसी प्रकार ब्लॉगिंग भी हैं। यदि ऐसा नहीं करते तो आपका आर्टिकल धीरे धीरे रैंक से डाऊन होने लगेगा। 

meaning of blogging in Hindi

ब्लॉग शब्द वास्तव में इसके मूल नाम "वेबलॉग" का संक्षिप्त रूप है। वेबलॉग्स ने शुरुआती इंटरनेट में डायरी लिखने की शुरुआत से हुयी। वर्तमान में यह बिजनेस बन चूका हैं। आप ब्लॉगिंग करके अच्छा खासा पैसा भी बना सकते हैं। 

यह एक माध्यम है लोगो से कनेक्ट होने का यदि आपको किसी भी फिल्ड में अच्छी जानकारी हैं। जैसे आपको कुकिंग करना अच्छा लगता हैं तो आप कुकिंग से जुडी जानकारी ब्लॉगिंग के माध्यम से लोगो को दे सकते हैं। 

ब्लॉग क्या होता है?

ब्लॉग  शुरुआत 1994 में शुरू हुआ। उस समय एक ब्लॉग एक व्यक्तिगत डायरी के रूप में था जिसे लोगों ने ऑनलाइन साझा किया। इस ऑनलाइन डायरी में, लोग अपने दैनिक जीवन के बारे में बात कर सकते हैं या उन चीजों के बारे में साझा कर सकते हैं जो आप कर रहे थे। फिर, लोगों ने एक नए तरीके जानकारी को से ऑनलाइन लोगो तक शेयर करने का अवसर देखा। इस प्रकार ब्लॉगिंग की खूबसूरत दुनिया की शुरुआत हुई।

ब्लॉग का अर्थ या परिभाषा

एक ब्लॉग एक ऑनलाइन जर्नल या सूचनात्मक वेबसाइट है जो रिवर्स कालानुक्रमिक क्रम में जानकारी प्रदर्शित करती है, जिसमें नवीनतम पोस्ट सबसे ऊपर दिखाई देते हैं। यह एक ऐसा मंच है जहां लेखक या लेखकों का समूह किसी एक विषय पर अपने विचार साझा करता है।

ब्लॉग का उद्देश्य क्या है?

व्यक्तिगत उपयोग के लिए ब्लॉग शुरू करने के कई कारण हैं इसमें व्यापार इसमें से एक मजबूत कारण हैं। इसमें लोग किसी कंपनी के सामान के बारे में बताते हैं या अपने सामान को सेल करने के लिए उसके लाभ और फीचर्स की जानकारी लोगो तक शेयर करते हैं। जिससे उसे आर्थिक लाभ प्राप्त होता हैं। इसके अलावा ब्लॉग के और भी उद्देश्य होते हैं। 

ब्लॉग का उद्देश्य आपकी वेबसाइट पर ऐसी सामग्री प्रदान करना है जो आपके ग्राहकों के प्रश्नों का उत्तर देती है। जैसे किसी ने गूगल में सर्च किया की खिचड़ी कैसे बनाते हैं तो इस प्रश्न का उत्तर आपके ब्लॉग में होगा तो आपका आर्टिकल रीजल्ट में दिखाई देगा। ब्लॉग में एक टॉपिक पर पूरी जानकारी होनी चाहिए ताकि उपयोगकर्ता को अपने सारे सवाल के जवाब मिल सके। 

ब्लॉग आपके उत्पाद या सेवा के बारे में जानने में मदद करती है। यह Google और अन्य सर्च इंजन के परिणामों में पोस्ट लिस्ट होती है। जिससे लोग आपके ब्लॉग पर विजिट करते हैं। 

लोगो तक पंहुचा एक ब्लॉग का पहला उदेश्य होता हैं लोगो तक अपनी पहुंच बनाना और यह इंटरनेट के होने से आसान हो गया हैं। आप अपने प्रोडक्ट या सर्वीस को लाखो लोगो तक ब्लॉगिंग के माध्यम से पंहुचा सकते हैं। इसके लिए आपको क़्वालिटी कंटेंट लिखने की आवश्यकता होती हैं ताकि आपका आर्टिकल गूगल में रैंक हो सके। तभी आप लाखो लोगो तक पहुंच बना सकते हैं। 

ब्लॉग के प्रकार

इंटरनेट पर 600 मिलियन एक्टिव ब्लॉग हैं, जो सभी वेबसाइटों का एक-तिहाई हिस्सा हैं। ब्लॉग पिछले दो दशकों में किसी भी विषय पर जानकारी शेयर करने के लिए विकसित हुआ हैं।

आप शिक्षित करने या दूसरों से जुड़ने के लिए एक ब्लॉग बना सकते हैं। लेकिन ब्लागिंग सिर्फ आपके पाठकों के लिए नहीं है। यह आपके लिए भी है। जब आप अपने पाठकों की संख्या बढ़ाना शुरू करते हैं, तो ब्लॉगिंग इ पैसे भी बना सकते है। आपके ब्लॉग के ग्रोथ होने से विज्ञापन और आर्टिकल पोस्ट करने का पैसा मिलने लगता हैं।

आपकी जो भी प्रेरणा हो, लेकिन एक ऐसा विषय चुनें जिसमें आप गहराई से उस विषय के बारे में जानते हों। जूनून और धैर्य ब्लॉगिंग में बहुत जरुरी होता हैं। रातो रत कोई भी ब्लॉग सफल नहीं होता उसके लिए समय और कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती हैं। ब्लॉगिंग में मुख्य कार्य पढने वालो को आकर्षित करना होता हैं। आपका कंटेन्स जितना अच्छा होगा उतने ही लोग आपके ब्लॉग को पसंद करेंगे। 

हमने टॉप 20 सबसे लोकप्रिय ब्लागिंग के प्रकार की सूची दी है। चाहे तो आप इनमे से किसी एक विषय को चुनकर ब्लॉगिंग स्टार्ट कर करते हैं। आप उसी विषय का चुनाव करे जिसके बारे में आप जानते हो यह वह विषय आपको पसंद हो ताकि भविष्य में आपको आर्टिकल लिखने में समस्या न आये। 

  1. फ़ूड ब्लॉग
  2. ट्रैवल ब्लॉग
  3. हेल्थ एंड फिटनेस ब्लॉग
  4. लाइफस्टाइल ब्लॉग
  5. फैशन एंड ब्यूटी ब्लॉग
  6. फोटोग्राफी ब्लॉग
  7. पर्शनल ब्लॉग
  8. DIY क्राफ्ट ब्लॉग
  9. पेरेंटिंग ब्लॉग
  10. म्यूजिक ब्लॉग
  11. बिजनेस ब्लॉग
  12. आर्ट एंड डिजाइन ब्लॉग
  13. ब्लॉगिंग राइटिंग 
  14. पर्शनल फाइनेंस ब्लॉग
  15. इंटीरियर डिजाइन ब्लॉग
  16. स्पोर्ट ब्लॉग
  17. न्यूज़ ब्लॉग
  18. मूवी ब्लॉग
  19. धर्म ब्लॉग
  20. राजनीतिक ब्लॉग

ब्लॉग कैसे बनाये

फ्री में ब्लॉग कैसे बनाये इसके लिए गूगल एक प्लेटफॉर्म प्रदान करता हैं। जिसकी मदद से आप बिना पैसा खर्च किये ब्लॉग स्टार्ट कर सकते हैं। इसके लिए आपको बस गूगल gmail की आवश्यकता होगी। आपको बस क्रोम ब्राउज़र में उस जीमेल से लोग इन करना हैं। 

  1. फिर क्रोम में blogger.com ओपन करे। 
  2. बाईं ओर, डाउन एरो पर क्लिक करें।
  3. नया ब्लॉग पर क्लिक करें। 
  4. अपने ब्लॉग के लिए एक नाम दर्ज करें।
  5. अगला पर क्लिक करें।
  6. एक ब्लॉग पता या URL चुनें।
  7. सेव पर क्लिक करें। 

आप ब्लॉगर के नीति और सेवा की शर्तों का अनुपालन करते हैं।

इसके बाद  आपका फ्री में ब्लॉग बन जायेगा इसके बाद आप आर्टिकल लिखकर पोस्ट करे। और अपने रीडर की संख्या बढ़ाये। यदि आपके ब्लॉग में अच्छी खासी ट्रैफिक आने लगे तो आप एडसेन्स में ऐड देखने के लिए कनेक्ट कर सकते हैं। जिससे आपको एक अच्छा अमाउंट अर्न होना स्टार्ट हो जायेगा। 

Blogging kaise Kare in Hindi

इन 5 ब्लॉगर्स ने शुरुआती ब्लॉगर्स के लिए महत्वपूर्ण टिप साझा की। भले ही आप अभी शुरुआत कर रहे हों, लेकिन ये टिप्स शायद उपयोगी साबित होंगे।

1. ऐसे ब्लॉग पोस्ट बनाएं जो सोशल मीडिया पर आपके साथ जुड़े लोगों के सबसे दिलचस्प सवालों के जवाब दें।

2. अपने दर्शकों को खुद को समझने से बेहतर समझें। इसके लिए बहुत अधिक शोध की आवश्यकता होती है, और अक्सर इसका मतलब है कि आप जिस जिन लोगो को टारगेट करने की कोशिश कर रहे हैं, उनके बारे में अधिक जाने। 

3. सबसे पहले अपने लिए लिखें। इस तथ्य पर ध्यान न दें कि आप जो लिखेंगे उसे कोई और पढ़ेगा; बस अपने विचारों पर ध्यान केंद्रित करें और समझें कि उन्हें शब्दों में कैसे रखा जाए।

4. पहले दिन से ही अपनी ईमेल सूची बनाना शुरू करें। यहां तक ​​कि अगर आप कुछ भी बेचने की योजना नहीं बनाते हैं, तो ईमेल सूची होने से आप सर्च रैंकिंग, फेसबुक, या अन्य ऑनलाइन बाधाओं के आने से भी आप अपने रीडर से जुड़े रह सकते हैं। 

5. पहले से मौजूद पाठकों से प्यार करें। बहुत सारे ब्लॉगर नए पाठकों को लुभाने के लिए काफी जुनूनी हो जाते हैं। इस हद तक कि वे उन लोगों को अनदेखा कर देते हैं जो उनके पास पहले से हैं। 

Related Posts
Subscribe Our Newsletter