जनसंख्या किसे कहते हैं - jansankhya vriddhi

आबादी में सभी व्यक्ति शामिल हैं जो उस निश्चित क्षेत्र में रहते हैं। विश्व की आबादी का अनुमान अप्रैल 2017 में 7.5 बिलियन तक पहुंच गया था। 

एशिया सबसे अधिक आबादी वाला महाद्वीप है, जहां इसके 4.3 बिलियन निवासी विश्व की आबादी का 60% हैं। 1.4 बिलियन लोगों के साथ सबसे अधिक आबादी वाला देश चीन है।

जनसंख्या किसे कहते हैं 

 जनसंख्या जीवित लोगों की संख्या है जो एक ही स्थान पर एक साथ रहते हैं। एक शहर की आबादी उस शहर में रहने वाले लोगों की संख्या है। इन लोगों को निवासी कहा जाता है। 

भारत में जनसंख्या वृद्धि के कारण क्या है

चिकित्सा विज्ञान में तेजी से प्रगति के साथ, मृत्यु दर में गिरावट के कारण जनसंख्या बढ़ती है। उच्च जन्म दर में योगदान करने वाले अन्य कारणों में जल्दी विवाह, जागरूकता की कमी, गरीबी, अशिक्षा, और अवैध प्रवासन हैं। 

भारत की जनसंख्या कितनी है

भारत की जनसंख्या 2018 के अनुशार 135 करोड़ से अधिक है। मुंबई और दिल्ली जैसे शहरो में सबसे अधिक जनसख्या रहती है। 

जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करने के उपाय बताइए

उन्हें मुफ्त शिक्षा दी जानी चाहिए। शिक्षा का प्रसार: शिक्षा के प्रसार से लोगों का दृष्टिकोण बदलता है। पढ़े-लिखे पुरुष शादी में देरी करना और परिवार के छोटे मानदंडों को अपनाना पसंद करते हैं। शिक्षित महिलाएं स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हैं और बार-बार गर्भधारण से बचती हैं और इस तरह जन्म दर को कम करने में मदद करती हैं।

जनसंख्या वृद्धि के दुष्परिणाम

भारत में इसके परिणाम आसानी से देखे जा सकते है। अधिक जनसख्या के कारन गरीबी और बेरोजगारी उत्त्पन्न होते है। और भी कई प्रकार की समस्याएं उत्त्पन्न होने लगती है। विकास दर निचे चला जाता है। कृषि भूमि की कमी होने लगती है। पिने योग्य पानी की कमी आदि समस्याएं उत्त्पन्न होती है। 

जनसंख्या नियंत्रण कानून 

जनसंख्या नियंत्रण विधेयक, 2019 राकेश सिन्हा द्वारा जुलाई 2019 में राज्यसभा में पेश किया गया एक प्रस्तावित विधेयक है। विधेयक का उद्देश्य भारत की जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करना है। संयुक्त राष्ट्र की विश्व जनसंख्या संभावना 2019 रिपोर्ट के अनुसार, भारत की जनसंख्या एक दशक के भीतर चीन से आगे निकल जाने  संभावना है। प्रस्तावित विधेयक पर 125 संसद सदस्यों ने हस्ताक्षर किए थे और अभी तक कानून का एक अधिनियम नहीं बन पाया है। 

भारत की जनसंख्या वृद्धि दर क्या है?

2017 में भारत की वृद्धि दर 1.13% है, जो दुनिया में 112 वीं रैंकिंग पर है। भारत में इसकी 50% आबादी 25 वर्ष से कम और 35 वर्ष से कम 65% से अधिक है।

विश्व जनसंख्या वितरण 2016 के अनुसार

  1. विश्व जनसंख्या 759.43 करोड़ है
  2. अफ्रीका की जनसंख्या 121.61 करोड़ है 
  3. एशिया की जनसंख्या 446.27 करोड़ है
  4. यूरोप की जनसंख्या 74.14 करोड़ है
  5. दक्षिण अमेरिका की जनसंख्या 42.25 करोड़ है
  6. उत्तरी अमेरिका की जनसंख्या 57.9 करोड़ है

विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है?

विश्व जनसंख्या दिवस 16 जुलाई को सर साल मनाया जाता है। इसमें लोगो को बढ़ती जनसंख्या की समस्या के प्रति जागरूक करना हैं। 

जनसंख्या वृद्धि को प्रभावित करने वाले कारक क्या हैं?

जनसंख्या वृद्धि को प्रभावित करने वाले कारक
  1. आर्थिक विकास। 
  2. शिक्षा। 
  3. बच्चों की गुणवत्ता।
  4. कल्याणकारी भुगतान। 
  5. सामाजिक और सांस्कृतिक कारक।
  6. परिवार नियोजन की उपलब्धता।
  7. महिला श्रम बाजार की भागीदारी। 
  8. मृत्यु दर - चिकित्सा प्रावधान का स्तर।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter