प्लाज्मा किसे कहते हैं

प्लाज्मा पदार्थ की चार मूलभूत अवस्थाओं में से एक है । इसमें आवेशित कणों का एक महत्वपूर्ण भाग होता है - आयन और/या इलेक्ट्रॉन । इन आवेशित कणों की उपस्थिति ही मुख्य रूप से प्लाज्मा को पदार्थ की अन्य मूलभूत अवस्थाओं से अलग करती है। यह ब्रह्मांड में सामान्य पदार्थ का सबसे प्रचुर रूप है।

ज्यादातर सितारों से जुड़ा हुआ है , जिसमें सूर्य भी शामिल है । यह विरलीकृत इंट्राक्लस्टर माध्यम और संभवतः अंतरिक्ष क्षेत्रों तक फैला हुआ है। प्लाज्मा को एक तटस्थ गैस को गर्म करके या इसे एक मजबूत विद्युत चुम्बकीय क्षेत्र के अधीन करके कृत्रिम रूप से उत्पन्न किया जा सकता है।

Related Posts

कितनी भी हो मुश्किल थोड़ा भी न घबराना है, जीवन में अपना मार्ग खुद बनाना है।