Ads 720 x 90

हिंदी शब्द भंडार - shabd bhandar in hindi

 8.  शब्द-भंडार : Vocabulary

इस पोस्ट आपको शब्द भंडार किसे कहते है और इसके प्रकार क्या है। इसकी जानकारी दी गयी है। मुख्य बिंदु - शब्द भंडार बढ़ाने के लिए, शब्द भंडार के प्रकार, पर्यायवाची शब्द, विलोम शब्द, एकार्थी शब्द, अनेकार्थी शब्द,  समरूपी भिन्नार्थक शब्द, अनेक शब्दों के लिए एक शब्द आदि। 

     shabd bhandar in hindi

    शब्द भंडार की परिभाषा - सभी भाषा में शब्दों का समूह होता है जिसकी सहायत से भाषा को बोली और लिखी जाती है। इन्ही सब्दो से समूह को व्याकरण में शब्द भंडार कहा जाता है। नीचे आपको शब्द भंडार के प्रकार और उदाहरण मिल जायेगा। 

    शब्द भंडार किसे कहते हैं, शब्द किसे कहते हैं, shabd bhandar kya hota hai, शब्द भंडार की परिभाषा, shabd bhandar meaning in hindi, shabd bhandar class 8, shabd bhandar class 7, shabd bhandar class 6 hindi, shabd bhandar me kitne prakar ke shabd hai, शब्द भंडार का मतलब, शब्दकोश शब्द का भंडार है, साहित्यिक शब्द भंडार, क्या शब्दकोश शब्दों का भंडार है, शब्द भंडार से क्या अभिप्राय है, शब्द भंडार किसे कहते हैं परिभाषा, शब्द भंडार बढ़ाने के लिए,  शब्द भंडार meaning in English

    शब्द-भंडार को अंग्रेजी में Vocabulary के नाम से जाना जाता है। शब्द-भंडार मतलब शब्दों का एक जगह एकत्र होना शब्द भंडार होता है चाहे वे शब्द कही से भी लिया गया है कोई मायने नही रखता है। इसे प्रकार परिभाषित की जा सकती है। 

    शब्द भंडार किसे कहते हैं

    हिंदी साहित्य या हिंदी भाषा में शब्दों का ऐसा समूह जिसमें पर्यायवाची, विलोम, एकार्थी, अनेकार्थी, समरूपी भिन्नार्थक और अनेक शब्दों के लिए एक शब्द जैसे शब्दों को एक जगह इकट्ठा करके रखना ही शब्द भंडार है। मैंने जितने भी उदाहरण यहां पर दिया है उसे इसके मतलब शब्द भंडार के प्रकार के रूप में ले सकते हैं। 

    शब्द भंडार बढ़ाने के लिए 

    देखीये मेरा मानना है जिस व्यक्ति का शब्द भंडार जितना अधिक होता है उस व्यक्ति की उस भाषा में पकड़ उतनी ही तेज होती है तो अपने शब्द भंडार को बढ़ाने के लिए हर उस वर्ड के अर्थ को जानने की समझने की कोशिस करें जो आपको अच्छा लगता हो। साथ ही मैं कहूंगा की आप उसे डिक्सनरी में ढूंढो और अपने ज्ञान को और ज्यादा शेयर करो ताकि वो हमेशा आपको याद रखे। 

    चलिए जानते हैं शब्द भंडार के स्त्रोत के बारे में कहाँ कहाँ से आप अपने शब्द-भंडार को बढ़ा सकते हैं। मैं एक लिस्ट बना देता हूँ जिससे आपको आसानी होगी। 

    शब्द भंडार के प्रकार

    1. पर्यायवाची शब्द 
    2. विलोम शब्द 
    3. एकार्थी शब्द 
    4. अनेकार्थी शब्द 
    5. समरूपी भिन्नार्थक शब्द 
    6. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द आदि। 

    1. पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं

    पर्यायवाची शब्द की परिभाषा - वे शब्द जो लगभग एक समान अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें पर्यायवाची या समानार्थी शब्द कहते हैं। सरल भाषा में कहें तो समान अर्थ वाले शब्दों को ही पर्यायवाची शब्द कहते हैं। 

    मैंने यहां कुछ शब्द दिए हैं जो की आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकते हैं -

    पर्यायवाची शब्द

    1. अश्व - घोड़ा, तुरंग, घोटक, हय 
    2. अहंकार - घमंड, अहं, गर्व, अभिमान 
    3. असुर - दानव, दनुज, राक्षस 
    4. अध्यापक - शिक्षक, आचार्य, गुरु 
    5. अतिथि - मेहमान, पाहून, अभ्यागत, आगंतुक 
    6. अमृत - सुधा, पीयूष, अमिय, अमी 
    7. तालाब - सरोवर, तड़ाग, सर, ताल 
    8. तट - कूल, किनारा, कगार 
    9. दशा - अवस्था, स्थिति, हालत, परिस्थिति 
    10. इन्द्र - सुरपति, देवराज, देवेंद्र, पुरंदर, शचीपति 
    11. दास - सेवक, भृत्य, नौकर, अनुचर 
    12. दूध - दुग्ध, क्षीर, पय, गोरस 
    13. उपवन - बाग़, बगीचा, उद्यान, वाटिका, फुलवारी 
    14. ऋषि - मुनि, साधू, संत, महात्मा 
    15. कमल - पंकज, अरविन्द, पदम्, नीरज, जलज 
    16. पत्नी - भार्या, गृहणी, वधू, दारा 
    17. किरण - रश्मि, अंशु, कर, मरीचि 
    18. पर्वत - गिरी, पहाड़, अचल, नग, शैल 
    19. पेड़ - वृक्ष, विटप, पादप, महीतरु
    20. चाँदनी - चंद्रिका, कौमुदी, ज्योत्स्ना 
    21. चतुर - कुशल, दक्ष, निपुण, प्रवीण, पटु 
    22. अरण्य - जंगल, वन, कानन, विपिन 
    23. आँख - नयन, नेत्र, लोचन, चक्षु, दृग 
    24. आकाश - आसमान, नभ, गगन, व्योम, अंबर 
    25. दुःख - पीड़ा, व्यथा, क्लेश, संताप 
    26. देव - देवता, सुर, अमर, विबुध 
    27. उद्देश्य - लक्ष्य, प्रयोजन, ध्येय, मकसद, इरादा 
    28. धनुष - धनु, चाप, कमान 
    29. उन्नती - विकास, उत्थान, तरक्की, प्रगति 
    30. परमात्मा - प्रभु, ईश्वर, भगवान, ईश 
    31. कामदेव - मनोज, मदन, काम, अनंग 
    32. कार्य - काम, क्रृत्य, कर्म, काज 
    33. पथिक - राही, पंथी, मुसाफिर, बटोही 
    34. कोकिल - कोयल, पिक, परभृत 
    35. फूल - कुसुम, सुमन, प्रसून, पुष्प 
    36. चंद्र - चन्द्रमा, शशि, हिमांशु, राकेश, शशांक
    37. भौंरा - भ्रमर, अलि, भँवरा, षट्पद, भृंग 
    38. सूर्य - सूरज, दिनकर, आदित्य, रवि, भानु 

    2. विलोम शब्द किसे कहते हैं

    विलोम शब्द की परिभाषा - वे शब्द जो एक दुसरे का विपरीत अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें विलोम शब्द कहते हैं। विलोम शब्द को विपरीतार्थी शब्द भी कहते हैं। 

    विलोम शब्द हिन्दी

    1. अंदर - बाहर 
    2. अंधकार - प्रकाश 
    3. आगमन - प्रस्थान 
    4. अंतरंग - बहिरंग 
    5. अंतर्मुखी - बहिर्मुखी 
    6. अतिवृष्टि - अनावृष्टि 
    7. अनुकूल - प्रतिकूल 
    8. इहलोक - परलोक 
    9. कटु - मधुर 
    10. निरक्षर - साक्षर 
    11. अनुज - अग्रज 
    12. कोमल - कठोर 
    13. उत्तीर्ण - अनुत्तीर्ण 
    14. उत्थान - पतन 
    15. उष्ण - शीत 
    16. उदार - अनुदार 
    17. उपकार - अपकार 
    18. उपस्थित - अनुपस्थित 
    19. एकता - अनेकता 
    20. तरुण - वृध्द 
    21. निंदा - प्रशंसा 
    22. अनुराग - विराग 
    23. कृत्रृम - स्वाभाविक 
    24. मौखिक - लिखित 
    25. दुर्बल - सबल 
    26. सर्वज्ञ - अल्पज्ञ 
    27. आस्तिक - नास्तिक 
    28. दीर्घ - लघु 
    29. आसक्ति - विसक्ति 
    30. दुर्लभ - सुलभ 
    31. नश्वर - शाश्वत 
    32. कुकर्म - सुकर्म 
    33. अनिवार्य - ऐच्छिक 
    34. कृतज्ञ - कृतघ्न 
    35. परमार्थ - स्वार्थ 
    36. अपराधी - निरपराधी 
    37. अग्र - पश्च 
    38. मित्र - शत्रु 
    39. अभिज्ञ - अनभिज्ञ 
    40. विकारी - अविकारी 
    41. संयोग - वियोग 
    42. सफलता - विफलता 
    43. चल - अचल 
    44. अनाथ - सनाथ 
    45. कुटिल - सरल 
    46. पराधीन - स्वाधीन 
    47. अपमान - सम्मान 
    48. कीर्ति - अपकीर्ति 

    3. एकार्थक शब्द किसे कहते हैं

    एकार्थी शब्द की परिभाषा- वे शब्द जो देखने में एक-दूसरे के पर्याय लगते हैं, परन्तु उनके अर्थ में पर्याप्त अंतर होता है, उन्हें एकार्थी शब्द कहते हैं। 

    एकार्थक शब्द के उदाहरण

    1. अगम - जहाँ पहुँचा न जा सके। 
        दुर्गम - जहाँ पहुँचना कठिन हो। 
    2. पूजा - धार्मिक विधि-विधान। 
        अर्चना - देवता के प्रति धुप दिप अर्पित करना। 
    3. अज्ञ - जिसे कुछ ज्ञान न हो। (मूर्ख)
        अनभिज्ञ - जिसे किसी विशेष तथ्य की जानकारी न  हो। 
    4. अनुरोध - आग्रहपूर्वक विनती करना। 
        प्रार्थना - विनयपूर्वक निवेदन करना। 
    5. साधारण - मामूली 
        सामान्य - आम 
    6. अभिनंदन - विधिवत सम्मान करना। 
        स्वागत - किसी के आने पर सम्मान प्रकट करना। 
    7. निधन - आदरणीय व्यक्ति की मृत्यु। 
        मृत्यु - आम आदमी की मृत्यु। 
    8. शिक्षा - किसी एक विषय पर ज्ञान सीखना। 
        विद्या - विभिन्न क्षेत्रों का ज्ञान जानना।
    9. अभिमान - प्रतिष्ठा में बड़ा समझना। 
        अहंकार - घमंड करना। 
    10. आज्ञा - बड़ों द्वारा छोटों को कुछ करने को कहना।
          अनुमति - किसी कार्य के लिए सहमति देना। 
    11. अधिक - आवश्यकता से ज्यादा। 
          पर्याप्त - आवश्यकता के अनुरूप। 
    12. उपयोग - विशेष रूप से काम में लाना। 
          प्रयोग - सामान्य रूप से काम में लाना। 
    13. नमस्कार - समान अवस्था वालों के लिये। 
          नमस्ते - सभी छोटे-बड़ों के लिए। 
    14. संस्कृति - रीति-रिवाज। 
          सभ्यता - व्यवहार। 
    15. छाया - वृक्ष (पेड़) की। 
          परछाईं - मनुष्य आदि की। 
    16. अनुभव - व्यवहार से प्राप्त करना। 
          अनुभूति - संवेदना से प्राप्त करना। 
    17. सेवा - किसी को सुख पहुँचाने वाला कार्य। 
          सुश्रूषा - रोगी तथा दुःखी व्यक्ति की सेवा। 
    18. कृपा - किसी की सहायता। 
          दया - दुःखी व्यक्ति को देखकर पिघलना।
    19. आविष्कार - नई वस्तु का निर्माण। 
          अनुसंधान - पहले से उपस्थित किसी वस्तु के बारे में नए तथ्यों की खोज करना। 
    20. निर्णय - फैसला। 
          न्याय - उचित फैसला। 
    21. भय - डर। 
          आशंका - बुरा होने की संभावना। 
    22. आधि - मानसिक रोग (चिंता)
          व्याधि - शारीरिक रोग ( बुखार )
    23. पुस्तक - सामान्य पुस्तक। 
          ग्रंथ - महत्त्वपूर्ण पुस्तक। 
    24. भेंट - बड़ो को देना। 
          उपहार - बराबर वालों को दिया जाने वाला। 
    25. भक्ति - ईश्वर, गुरु आदि के प्रति पूज्य भाव। 
          श्रद्धा - श्रेष्ठता के कारण सम्मान का भाव। 

    4. अनेकार्थी शब्द in Hindi

    अनेकार्थी शब्द की परिभाषा - वे शब्द जो अनेक अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें अनेकार्थी शब्द कहते हैं। यहां मैंने कुछ अनेकार्थी शब्द दिए हैं -

    अनेकार्थी शब्द के उदाहरण

    1. ताप - गरमी, धूप, पाप। 
    2. तीर - किनारा, बाण, समीप। 
    3. दंड - लाठी, सजा, एक प्रकार का व्यायाम। 
    4. अमृत - स्वर्ण, देवता, पारा, दूध। 
    5. उपचार - इलाज, उपाय, स्वागत-सत्कार। 
    6. पक्ष - पंख, दल, पखवाड़ा, तरफ। 
    7. कर - हाथ, किरण, टैक्स, हाथी की सूँड 
    8. कल - मशीन, आवाज, बीता या आने वाला दिन, चैन 
    9. काल - मृत्यु, समय, मृत्यु के देवता 
    10. कला - एक विषय, गुण, चन्द्रमा की कला, आर्ट 
    11. कर्ण - कान, कुंती का बेटा, समकोण त्रिभुज की लम्बी भुजा 
    12. कोष - खजाना, फूल का भीतरी भाग, भंडार 
    13. कृष्ण - काला, वासुदेव, कृष्णपक्ष 
    14. बाल - बच्चा, केश, गेहूँ आदि की बाल 
    15. भव - संसार, उत्पत्ति, शिव 
    16. घट - घड़ा, शरीर, कम होना, हृदय 
    17. चक्र - पहिया, चक्कर, भंवर, एक अस्त्र 
    18. रंग वर्ण, दशा, प्रेम 
    19. यंत्र - मशीन, उपकरण, तांत्रिक, आरेख 
    20. वर्ण - अक्षर, रंग, जाति, रूप 
    21. अधर - निचला ओंठ, अंतरिक्ष, बीच में 
    22. अरुण - सूर्य, लाल रंग, सिंदूर 
    23. दक्षिण - एक दिशा, दाहिना, अनुकूल 
    24. धन - रुपया-पैसा, जोड़ने का निशान (+), दौलत 
    25. नाक - नासिका, सम्मान, प्रतिष्ठा 
    26. कनक - सोना, धतूरा, पलाश, गेहूँ 
    27. पेय - दूध, पानी, अमृत 
    28. पद - पैर, स्थान, ओहदा, चरण, कदम,पदवी 
    29. पूर्व - एक दिशा, पहले, प्राचीन, पिछला 
    30. पतंग - सूर्य, पक्षी, कीट-पतंग, उड़ाई जाने वाली पतंग 
    31. पर - ऊपर, पंख, परन्तु 
    32. पात्र - बर्तन, नाटक के चरित्र, योग 
    33. फल - आम आदि फल, परिणाम 
    34. गुरु - भारी श्रेष्ठ अध्यापक, पचाने में कठिन 
    35. गो - गाय, इन्द्रिय, पृथ्वी, वाणी 
    36. भेद - प्रकार, रहस्य, फूट 
    37. मत - राय, वोट, विचार, सम्प्रदाय, नहीं 
    38. मुद्रा - सिक्का, मोहर, नृत्य/ध्यान की मुद्राएँ 
    39. निशान - चिन्ह, झंडा, डंका 
    40. शून्य - जीरो, निर्जन, आकाश, ब्रम्हा 

    5. समरूपी भिन्नार्थक शब्द किसे कहते हैं

    समरूपी भिन्नार्थक शब्द की परिभाषा - वे शब्द जो पढ़ने व सुनने में समान प्रतीत होते हैं, परन्तु उनके अर्थ भिन्न-भिन्न होते हैं, उन्हें समरूपी भिन्नार्थक कहते हैं। 

    समरूपी भिन्नार्थक शब्द

    1. अचल - पर्वत 
        अचला - पृथ्वी 
    2. आदि - प्रारंभ, इत्यादि 
        आदी - अभ्यस्त 
    3. अस्त्र - हथियार 
        अस्त - छिपना 
    4. अर्घ - जल देना 
        अर्द्ध - आधा 
    5. अनुसार - के मुताबिक़ 
        अनुस्वार - नासिक्य 
    6. अपेक्षा - आशा 
        उपेक्षा - तिरस्कार 
    7. आकर - खान 
        आकार - आकृति 
    8. कपट - धोखा 
        कपाट - किवाड़ 
    9. अचार - आम आदि का अचार 
        आचार - व्यवहार / आचरण 
    10. आसन - बैठने की जगह 
          आसन्न - निकट 
    11. ओर - तरफ 
          और - तथा 
    12. कंकाल - हड्डियों का ढाँचा 
          कंगाल - गरीब 
    13. इतर - अन्य 
          इत्र - सुगंधित पदार्थ 
    14. कलि - कलियुग 
          कली - अधखिला फूल 
    15. केसर - शेर की गरदन के बाल 
          केशर - जाफरान 
    16. कृपण - कंजूस 
          कृपाण - छोटी तलवार 
    17. कुल - वंश 
          कूल - किनारा 
    18. दीप - दीपक 
          द्वीप - टापू
    19. धरा - पृथ्वी
          धारा - प्रवाह
    20. दिशा - तरफ
          दशा - स्थिति
    21. नीड़ - घोंसला
          नीर - पानी
    22. नियत - निश्चित
          नियति - इच्छा
    23. पथ - रास्ता
          पथ्य - रोगी
    24. प्रणाम - नमस्कार
          प्रमाण - सबूत
    25. प्रसाद - भगवान का भोग
          प्रासाद - महल
    26. उदार - बड़े दिल वाला
          उधार - ऋण के रूप में दिया धन
    27. कोर - किनारा
          कौर - ग्रास
    28. कर्म - कार्य
          क्रम - सिलसिला
    29. गुरु - शिक्षक
          गुर - उपाय
    30. अवलंबन - सहारा
          अविलम्ब
    31. चर्म - चमड़ी
          चरम - अंतिम
    32. ग्रह - मंगल, शनि आदि ग्रह
          गृह - घर
    33. चिर - सदा
          चीर - कपड़ा
    34. क्रान्ति - परिवर्तन
          कांति - चमक
    35. चालक - ड्राइवर
          चालाक - चतुर
    36. ज्वर - बुखार
          ज्वार - समुद्र में उठने वाला
    37. चपल - चंचल
          चपला - बिजली
    38. तरणी - नाव
          तरणि - सूर्य
    39. छत्र - छाता
          छात्र - विद्यार्थी
    40. दिन - दिवस
          दीन - गरीब
    41. तरंग - लहर
          तुरंग - घोड़ा
    42. द्रव - तरल पदार्थ
          द्रव्य - धन
    43. परिमाण - मात्रा
          परिणाम - नतीजा
    44. फन - कला, हुनर
          फन - साँप का फन
    45. बदन - शरीर
          वदन - मुख
    46. भवन - घर
          भुवन - संसार
    47. बलि - कुर्बानी
          बली - ताकतवर
    48. सुत - बेटा
          सूत - सारथी, धागा
    49. मेल - मिलाप
          मैल - गंदगी
    50. शर - बाण
          सर - सरोवर

    6. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द 

    परिभाषा - वे शब्द जो अनेक शब्दों के स्थान पर अकेले ही प्रयोग किए जाते हैं, उन्हें अनेक शब्दों के लिए एक शब्द कहते हैं। 

    अनेक शब्दों के लिए एक शब्द उदाहरण -

    1. जिस बात को कहा न जा सके - अकथनीय 
    2. जिसे टाला नहीं जा सकता - अनिवार्य 
    3. जो किसी के पीछे चलता हो - अनुयायी 
    4. जहां जाया न जा सके - अगम्य 
    5. अनेक राष्ट्रों से संबंधित - अंतर्राष्ट्रीय 
    6. जिसे जीता न जा सके - अजेय 
    7. जो क्षमा न किया जा सके - अक्षम्य 
    8. जो थोड़ा जानता हो - अल्पज्ञ 
    9. बिना वेतन के काम करने वाला - अवैतनिक 
    10. जिसे देखा न जा सके - अदृश्य, परोक्ष 
    11. जो कभी न मरे - अमर 
    12. अत्याचार करने वाला - अत्याचारी 
    13. जिसका विवाह हो गया हो - विवाहित 
    14. जो कभी बूढ़ा न हो - अजर 
    15. जिसे पाना सरल हो - सुलभ 
    16. जहां - जंगली पशु स्वतंत्रतापूर्वक रहते हों - अभ्यारण 
    17. आकाश को चुमने वाला - गगनचुम्बी 
    18. जिसकी आयु छोटी हो - अल्पायु 
    19. जिसे पढ़ा न हो - अपठित 
    20. जिसकी कल्पना न की जा सके - अकाल्पनिक 
    21. अंदर की बात जान्ने वाला - अन्तर्यामी 
    22. जो किसी के अधीन न हो - स्वतंत्र 
    23. जो धर्म का कार्य करे - धर्मात्मा 
    24. इन्द्रियों को जीतने वाला - जितेन्द्रिय 
    25. जहां अनाथ रह्ते हों - अनाथालय 
    26. अच्छे भाग्य वाला - सौभाग्यशाली 
    27. प्रत्येक मास होने वाला - मासिक 
    28. मांस न खाने वाला - शाकाहारी 
    29. दूर की सोचने वाला - दूरदर्शी 
    30. सौ वर्षों का समूह - शताब्दी 
    31. जो आँखों के सामने हो - प्रत्यक्ष 
    32. सुनने वाला - श्रोता 
    33. जो पढ़ा-लिखा न हो - अनपढ़ 
    34. जिसकी आत्मा धर्म में लीन हो - धर्मात्मा 
    35. जिसके मुंह से आग निकलती हो - ज्वालामुखी 
    36. श्रम द्वारा जीवन यापन करने वाला - श्रमजीवी 
    37. जो शिव का उपासक हो - शैव 
    38. जो अपने पर अवलम्बित हो - स्वावलम्बी 
    39. उपकार को मानने वाला - कृतज्ञ 
    40. दूसरे देश का - विदेशी 
    41. जिसमें विकार न हो - निर्विकार
    42. जो कार्य करने में कठिन हो - दुष्कर 
    43. जो पढ़ा लिखा हो - साक्षर 
    44. जो क्षण मात्र का हो - क्षणिक 
    45. जो गिना न जा सके - अगणित 
    46. जो अभी-अभी पैदा हुआ हो - नवजात 
    47. जिसके मन में ममता न हो - निर्मम 
    48. जो सच बोलता हो - सत्यवादी 
    49. जो अच्छे कुल में पैदा हो - कुलीन 
    50. पृथ्वी पर रहने वाला - थलचर 
    आओ जाने हमने क्या जाना इस पोस्ट को पढ़ने के बाद -

    Conclusion
    • वे शब्द जो लगभग एक समान अर्थ व्यक्त करते हैं, उन्हें पर्यायवाची शब्द कहते हैं। 
    • वे शब्द जो एक-दूसरे का विपरीत अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें विलोम शब्द कहते हैं। 
    • वे शब्द जो देखने में एक-दूसरे के पर्याय लगते हैं, किन्तु उनके अर्थ में पर्याप्त अंतर होता है, उन्हें एकार्थी शब्द कहते हैं। 
    • वे शब्द जो अनेक शब्दों के स्थान पर अकेले ही प्रयोग किए जाते हैं, उन्हें अनेक शब्दों के लिए एक शब्द कहते हैं। 
    • वे शब्द जो पढ़ने व सुनने में समान प्रतीत होते हैं परन्तु उनके अर्थ भिन्न-भिन्न होते हैं, उन्हें समरूपी भिन्नार्थक शब्द कहते हैं। 

    समान्य प्रश्न जो शब्द विचार से पूछे जाते हैं 
    • 'पर्वत' के कोई दो पर्यायवाची शब्द बताओ। 
    • 'तरुण' का विलाम शब्द बताओ। 
    • जहां जंगली पशु स्वतंत्रतापूर्वक रहते हों' के लिए एक शब्द बताओ। 
    निम्न प्रश्नो के उत्तर कमेंट में लिखो 
    1. पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं? उदाहरण सहित स्पष्ट करो। 
    2. विलोम शब्द किसे कहते हैं? कोई पांच उदाहरण देकर स्पष्ट करो। 
    3. एकार्थी शब्द और अनेकार्थी शब्द में उदाहरण सहित अंतर् स्पष्ट करो। 
    बॉक्स में दिए गए शब्दों के रिक्त स्थान भरो 

    समरूपी भिन्नार्थक विलोम अनेकार्थी 
    1. वे शब्द जिनका अर्थ लगभग समान हो, उन्हें --------- कहते हैं। 
    2. जिन शब्दों के अनेक अर्थ होते हैं, उन्हें -------- कहते हैं। 
    3. वे शब्द जो एक-दूसरे का विपरीत अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें -------- कहते हैं।
    4. वह शब्द जो पढ़ने व सुनने में समान प्रतीत होते हैं, उन्हें -------- शब्द कहते हैं। 
    पर्यायवाची शब्द लिखिए 
    1. अतिथि 
    2. धनुष 
    3. पथिक 
    4. सरस्वती 
    5. उद्देश्य 
    निम्न शब्दों के विलोम शब्द लिखिए 
    1. निंदा 
    2. अल्पायु 
    3. गृहस्थ 
    4. परमार्थ 
    सही विकल्प चुनिए 

    1. वे शब्द जो एक समान अर्थ व्यक्त करते हैं, उन्हें क्या कहा जाता है ?
    1. समरूपी 
    2. पर्यायवाची 
    3. एकार्थी 
    2. वे शब्द जो एक-दूसरे का विपरीत अर्थ प्रकट करते हैं, उन्हें क्या कहते हैं?
    1. अनेकार्थी 
    2. विलोम 
    3. समरूपी भिन्नार्थक 
    3. वे शब्द जो पढ़ने व सुनने में समान प्रतीत होते हैं, उन्हें क्या कहते हैं?
    1. समरूपी भिन्नार्थक 
    2. एकार्थी 
    3. पर्यायवाची 
    4. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द का प्रयोग किया जाता है, उन्हें क्या कहते हैं?
    1. पर्यायवाची 
    2. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द 
    3. समरूपी भिन्नार्थक 
    दिए गए शब्दों के अनेकार्थी शब्द क्या होंगे 
    1. अरुण 
    2. अमृत 
    3. दंड 
    4. पतंग 
    दिए गए शब्दों के अर्थ लिखिए 

    (क) पूजा 
          अर्चना 
    (ख) साधारण 
           सामान्य 
    (ग) शिक्षा 
          विद्या 
    (घ) कृपा 
          दया 

    आपको यह जानकारी कैसे लगी कमेंट में बताएं और उत्तर जानना हो तो कमेंट में लिखे इन सवालों के जवाब के लिए अगले पोस्ट को सीधे अपने जी मेल में पाने के लिए ब्लॉग को सब्स्क्राइब करें। 

    आपने जो shabd bhandar पढ़ा वह class 8 के लिए ज्यादा उपयोगी है अतः आपके आस पास के वाट्सप ग्रुप में जरूर शेयर करें। 

    अन्य पोस्ट जो की हिंदी व्याकरण से संबंधित हैं -

    Related Posts
    Subscribe Our Newsletter