Hindi Sahitya general knowledge - question answer

स्वागत है आपका इस ब्लॉग पर आज हम आपके लिए लिख रहें हैं, हिंदी साहित्य (Hindi Sahitya) से जुड़े सवालों और उसके जवाबों के बारे में एक पोस्ट, यहां पर हम उन महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर के बारे में जानेंगे जिसे की प्रायः नेट और सेट जैसे परीक्षाओं में भी पूछे जाते है और यह हिंदी साहित्य में मास्टर डिग्री करने वालों के लिए भी मह्त्वपूर्ण है क्योंकि यह प्रश्न उनमें भी पूछे जाते हैं। यहां पर आपको एक एक नंबर में पूछे जाने वाले प्रश्नों के बारे में बताया गया है।

question answer general knowledge

 1. 'साहित्य का इतिहास जनता की चित्तवृत्ति का इतिहास है' यह कथन किसका है ?
उत्तर - यह कथन आचार्य रामचंद्र शुक्ल जी का है। 

2. इतिहास के प्रति भारतीय दृष्टिकोण किस प्रकार का रहा है ?
उत्तर - भारत का दृष्टिकोण आदर्शमूलक एवं अध्यात्मवादी रहा है इतिहास के प्रति। 

3. हिंदी साहित्य के भूमिका के लेखक कौन हैं ?
उत्तर - हजारीप्रसाद द्वेदी जी इसके लेखक रहें है। 

4. हिंदी साहित्य के इतिहास लेखन परम्परा का सूत्रपात किसने किया। 
उत्तर - गार्सा-द-तासी जिन्होंने फ्रेंच भाषा में हिंदी साहित्य का इतिहास लिखा था। 

5. आचार्य रामचंद्र शुक्ल के 'इतिहास ग्रंथ' का नाम क्या है ?
  उत्तर - हिंदी साहित्य का वैज्ञानिक इतिहास उनके इतिहास ग्रंथ का नाम है। 

6. आचार्य रामचंद्र शुक्ल का इतिहास ग्रंथ कब प्रकाशित हुआ ?
उत्तर - आचार्य रामचंद्र शुक्ल का इतिहास ग्रंथ सन 1929 में प्रकाशित हुआ। 

7. हिंदी साहित्य के इतिहास के प्रथम लेखक किसे माना जाता है ?
उत्तर - गार्सा-द-तासी को हिंदी साहित्य का प्रथम लेखक माना जाता है। 

8. शिवसंह सरोज में कितने कवियों का विवरण दिया गया है ?
उत्तर - शिवसिंह सरोज में लगभग 1000 कवियों का विवरण है। 

9. राजस्थानी भाषा और साहित्य किसका लेख है या किसने लिखा है ?
उत्तर - मोतीलाल मेनारिया के द्वारा लिखा गया है राजस्थानी भाषा और साहित्य नामक लेख या रचाना। 

10. हिंदी साहित्य का वैज्ञानिक इतिहास किसकी रचना है ?
उत्तर - यह हिंदी साहित्य का वैज्ञानिक इतिहास डॉ. गणपति चंद्र गुप्त की रचना है।

question answer general knowledge
Hindi Sahitya

11. शिवसिंह सरोज किसकी रचना है ?
उत्तर - यह शिवसिंह सरोज रचना शिवसिंह सेंगर द्वारा लिखा गया है। 

12. हिंदी साहित्य के सर्वपर्थम इतिहास ग्रंथ का रचनाकाल क्या था ?
उत्तर - सन 1839 को सर्वपर्थम इतिहास ग्रंथ की रचना हुई थी। 

13. हिंदी साहित्य का इतिहास सर्वपर्थम किस भाषा में लिखा गया था ?
उत्तर - हिंदी साहित्य का इतिहास सर्वपर्थम फ्रेंच भाषा में लिखा गया था। 

14. उस इतिहास ग्रंथ का नाम बताइये जिसमें लगभग 5000 कवियों का विवरण संकलित किया गया है ?
उत्तर - मिश्रबन्धु विनोद एक ऐसी रचना है जिसमें लगभग 5000 कवियों का विवरण संकलित है। 

15. हिंदी वीर काव्य के रचियता कौन हैं ?
उत्तर - हिंदी वीर काव्य के रचियता टीकम सिंह हैं। 

16. नागरी प्रचारणी सभा द्वारा प्रकाशित हिंदी साहित्य के वृहत इतिहास में कुल कितने खंड हैं ?
उत्तर - हिंदी साहित्य के वृहत इतिहास में कुल अठ्ठारह खंड हैं। 

17. नागरी प्रचारणी सभा, काशीं द्वारा प्रकाशित हिंदी साहित्य के वृहत इतिहास के छटवें खंड 'रीतिकाल' के सम्पादक कौन हैं ?
उत्तर - डॉ. नगेन्द्र रीतिकाल के सम्पादक रहें हैं। 

18. कविता कौमुदी के रचियता कौन हैं ?
उत्तर - रामनरेश त्रिपाठी ने कविता कौमुदी की रचना की थी। 

19.' हिंदी साहित्य के इतिहास दर्शन ' नामक ग्रन्थ के लेखक कौन हैं ?
उत्तर - हिंदी साहित्य के इतहास दर्शन के लेखन हैं डॉ. नलिन विलोचन शर्मा। 

20. हजारी परशाद द्वेदी की तीन रचनाों के नाम बताइये ?
उत्तर- हजारी जी की तीन रचनाओं के नाम हैं - हिंदी साहित्य की भूमिका , हिंदी साहित्य का आदिकाल , हिंदी साहित्य : उद्भव और विकास। 

21. कविवचन सुधा के सम्पादक का नाम बताइये ?
उत्तर - भारतेन्दु ने कविवचन सुधा का सम्पादन किया था। 

22. पंडित बालकृष्ण भट्ट किस पत्र के सम्पादक थे ?
उत्तर - हिंदी प्रदीप नामक पत्र के सम्पादक थे पं. बालकृष्ण भट्ट जी। 

23. प्रजा हितैषी ' साप्ताहिक ' पत्र का प्रकाशन कहाँ से होता था ?
उत्तर - आगरा से प्रजा हितैषी साप्ताहिक पत्र का प्रकाशन होता था। 

24. उदन्त मार्तण्ड का प्रकाशन कहाँ से होता था ?
उत्तर - कलकत्ता से उदन्त मार्तण्ड का प्रकाशन किया जाता था। 

25. ब्राम्हण पत्र के सम्पादक कौन थे ?
उत्तर - पं. प्रतापनारायण मिश्र जी ब्राम्हण पत्र के सम्पादक थे। 

26. सरस्वती पत्रिका का प्रकाशन कब से प्रारम्भ हुआ -
उत्तर - सन 1900 से सरस्वती पत्रिका का प्रकाशन प्रारम्भ हुआ। 

27. सरस्वती पत्रिका के यशस्वी सम्पादक का नाम क्या था ?
उत्तर - महावीर प्रसाद द्वेदी सरस्वती पत्रिका के  यशस्वी सम्पादक थे। 

28. गणेशशंकर विद्द्यार्थी कानपुर से कौन सा पत्र निकालते थे ?
उत्तर - प्रताप नाम से कानपुर में गणेशशंकर विद्द्यार्थी पत्र निकालते थे। 

29. दुलारेलाल भार्गव के सम्पादकत्व में कौन सी पत्रिका लखनऊ से निकलती थी ?
उत्तर - दलारेलाल भार्गव के सम्पादकत्व में माधुरी नामक पत्रिका लखनऊ से निकलती थी। 

30. कल्याण क्या है ?
उत्तर - कल्याण हिंदी का धार्मिक मासिक पत्र का नाम है। 

31. कल्याण पत्र का प्रकाशन कौन से शहर से होता है ?
उत्तर - गोरखपुर से कल्याण पत्र का प्रकाशन किया जाता है। 

32. 'विशाल भारत' नामक पत्र  के सम्पादक का नाम क्या है ?
उत्तर - विशाल भारत के सम्पादक का नाम बनारसीदास चतुर्वेदी है। 

33. 'विशाल भारत' में किस रचनाकार के साहित्य को घासलेटी साहित्य कहा जाता था ?
उत्तर - उग्र के साहित्य को विशाल भारत नामक पत्र में घासलेटी साहित्य कहा जाता था। 

34. निराला जी ने किस पत्रिका का सम्पादन किया था। 
उत्तर - निराला जी ने ' सुधा ' नामक पत्रिका का सम्पादन किया था। 

35. आगरा से निकलने वाले 'साहित्य संदेश'  के सपादक कौन थे-
उत्तर - आगरा से निकलने वाले 'साहित्य संदेश' के सम्पादक "बाबू गुलाबराय" थे।

36. "प्रभा" पत्रिका कहाँ से प्रकाशित होता था ?
उत्तर - प्रभा पत्रिका "कानपुर" से प्रकाशित होता था।

37. "सुधा" नामक पत्रिका कहाँ से प्रकाशित होता था ?
उत्तर - सुधा नामक पत्रिका "लखनऊ" से प्रकाशित होता था।

38. "विशाल भारत" पत्रिका कहाँ से प्रकाशित होता था ?
उत्तर - विशाल भारत पत्रिका "कलकत्ता" से प्रकाशित होता था।

39. प्रभा के सम्पादक का नाम क्या है ?
उत्तर - "बालकृष्ण भट्ट" प्रभा पत्रिका के सम्पादक रहें थे।

40. "देवनागर" के सम्पादक कौन थे ?
उत्तर - देवनागर के सपादक "उमापति दत्त शर्मा" थे।

41. " हंस " के सम्पादक कौन थे ?
उत्तर - हंस के सम्पादक "प्रेमचंद" जी थे।

42. किस काल का नामकर प्रवृत्ति के आधार पर किया गया?
उत्तर - रीतिकाल का नामकरण प्रवृत्ति के आधार पर किया गया था।

43. रीतिकाल को अलंकृत काल की संज्ञा किसने दी ?
उत्तर - रीतिकाल को अलंकृत काल की संज्ञा "मिश्रबन्धु" ने दिया था।

44. "शुक्ल" जी ने आदिकाल को और किस नाम से पुकारा ?
उत्तर - शुक्ल जी ने आदिकाल को वीरगाथा काल के नाम से पुकारा या कहा है।

45. किस इतिहास लेखक ने हिंदी साहित्य का प्रारम्भ 1050 वि. से स्वीकार किया है-
उत्तर- "आचार्य रामचंद्र शुक्ल" ने हिंदी साहित्य का प्रारम्भ 1050 वि. से स्वीकार किया है।

46. शुक्ल जी ने आधुनिक काल का नाम क्या रखा है?
उत्तर - शुक्ल जी ने आधुनिक काल का नाम गद्यकाल रखा है।

47. "पूर्वमध्यकाल" को शुक्ल जी ने क्या नाम दिया है ?
उत्तर - पूर्वमध्यकाल को शुक्ल जी ने "भक्तिकाल" नाम दिया है।

48. शुक्ल जी ने कालों का नाकरण किस आधार पर किया है?
उत्तर - शुक्ल जी ने कालों का नामकरण प्रवृत्ति की प्रधानता के आधार पर किया है।

49. आदिकाल को चारण काल किसने कहा ?
उत्तर - आदिकाल को चारणकाल रामकुमार वर्मा ने कहा।

50. डॉ. रामकुमार वर्मा के काल विभाजन में हिंदी साहित्य का प्रारम्भ कब से माना गया है-
उत्तर - रामकुमार वर्मा ने काल विभाजन ें हिंदी साहित्य का प्रारम्भ 750 वि. से माना है।

51. डॉ. गणपति चन्द्र गुप्त आधुनिक काल का प्रारम्भ कब से मानते हैं ?
उत्तर- गणपति चंद्रगुप्त ने आधुनिक काल का प्रारम्भ 1857 ई. से माना है।

52. संधिकाल नाम किस काल के लिए रामकुमार वर्मा ने दिया था ?
उत्तर - आदिकाल के लिए इन्होने संधिकाल नाम दिया था जो की अस्वीकार्य रहा ।

53. राहुल सांकृत्यायन हिंदी का पहला कवि किसे मानते हैं ?
उत्तर - राहुल सांकृत्यायन ने हिंदी का पहला कवि "सरहपा" को माना है।

54. सरहपा का समय राहुल सांकृत्यायन जी के अनुसार क्या है ?
उत्तर - सरहपा का समय राहुल सांकृत्यायन जी के अनुसार 7 वीं शती है।

55. हिंदी का पहला ग्रंथ कौन-सा है?
उत्तर - श्रावकाचार हिंदी का पहला ग्रंथ है।

56. श्रावकाचार के रचियता कौन हैं ?
उत्तर - श्रावकाचार के रचियता देवसेन हैं।

57. श्रावकाचार की रचना कब हुई थी ?
उत्तर - श्रावकाचार की रचना हुई थी 933 ई. में।

58. जगनिक द्वारा रचित वीर रस प्रधान ग्रंथ का नाम क्या है ?
उत्तर - जगनिक द्वारा रचित वीर रस प्रधान ग्रंथ का नाम परमाल रासो है।

59. आल्हखण्ड किस रचना का लोकप्रिय नाम है ?
उत्तर - आल्हखण्ड परमाल रासो का लोकप्रिय नाम है।

60. पृथ्वीराज रासो के विषय में कौन सी धारणा अधिक उपयुक्त है?
उत्तर- पृथ्वीराज रासो के विषय में अर्धप्रमाणिक धारणा अधिक उपर्युक्त है।

61. बीसल देव रासो का प्रधान रस कौन सा है ?
उत्तर - बीसल देव रासो का प्रधान रस श्रृंगार रस है।

62. हिंदी का प्रथम महाकव्य किसे माना जाता है ?
उत्तर - हिंदी का प्रथम माहाकाव्य पृथ्वीराज रासो को माना जाता है।

63. पृथ्वीराज रासो के वृहद रूपांतर में को कितने सर्ग हैं?
उत्तर - पृथ्वीराज रासो के वृहद रूपांतर में कुल 69 सर्ग हैं।

64. रासो शब्द की व्युत्पत्ति के संबंध में सर्वाधिक उपयुक्त मत कौन सा है-
उत्तर- रासो शब्द की व्युत्पत्ति ' रासक ' से हुई।

आज के question answer general knowledge Hindi Sahitya 01 के पोस्ट में बस इतना ही मिलते हैं अगले पोस्ट में।

Related Post

 मैथिली शरण गुप्त जी का जीवन परिचय 

मैथली शरण गुप्त द्वारा लिखा गया साकेत

Related Posts

Subscribe Our Newsletter