आपका बहुत - बहुत स्वागत है मेरे ब्लॉग पर पिछले पोस्ट में मैंने आपसे बात किया था कैलिपर्स के बारे में आज हम आपको बताने वाले हैं माइक्रोमीटर के बारे में जिसमें हम जानेंगें की माइक्रोमीटर क्या है और यह कितने प्रकार का होता है तथा इसके साथ ही हम जानेंगें  माइक्रोमीटर के अल्पतमांक के बारे में तो चलिए जानते हैं -
screw gadge

माइक्रोमीटर क्या है ?

कार्यशाला में इंजिन की मरम्मत करते समय अथवा नया जॉब बनाते समय कई बार बहुत सूक्ष्म माप की आवश्यकता पड़ती है। जिन्हें स्टील फूट रूल या कैलीपर्स के द्वारा नहीं मापा जा सकता है।  इसलिए किसी पार्ट का सूक्ष्म नाप लेने के लिए माइक्रोमीटर का प्रयोग किया जाता है।  यह नट बोल्ट के सिद्धांत पर कार्य करता है आउट साइड माइक्रोमीटर ब्रिटिश व मीट्रिक प्रणाली में आते हैं। ब्रिटीश प्रणाली में कम से कम 0.001 इंच तक माप ले सकते हैं तथा मीट्रिक प्रणाली में 0.01 मिलीमीटर तक कम से माप ले सकते हैं। बाजार में यह विभिन्न रेटों में उपलब्ध है जैसे 50-70 , 75 -100 मिली मीटर में कार्य के अनुसार से दो प्रकार के होते हैं।
  1. आउट साइड माइक्रोमीटर 
  2. इनसाइड माक्रोमीटर  
1. आउट साइड माइक्रोमीटर :- आउट साइड माइक्रोमीटर का प्रयोग किसी जॉब के बाहरी सतह की माप लेने के लिए किया जाता है इसके आकार की बात करे तो यह U के तरह होता है और कार्य विशेष के लिए इसका आकार जो है अलग अलग होता है। या डिजाइन भी कह सकते हैं। आउट साइड माइक्रोमीटर के भाग इस प्रकार से बटे होते हैं-
  1. स्पिंडल 
  2. फ्रेम 
  3. लॉकिंग रिंग 
  4. स्लिप या बैरल 
  5. ट्रिंबल 
  6. रैचिट  
इसके द्वारा माप लेते समय रैचीट को घुमाकर एनविल तथा स्पिंडल के मध्य जॉब को स्पर्श करता हुआ रखा जाता है लॉकिंग रिंग को कस कर स्लीव तथा सिंबल पर अंशांकन को पढ़ा जाता है ये माइक्रोमीटर एक इंच की नाप में या 25 मिमी की नाप में होते हैं। 
इसलिए ब्रिटिश माइक्रोमीटर 0 से 1 इंच 1 से 2 इंच तथा 2 से 3 इंच तक एक - एक इंच के अंदर में आते हैं। 

2. इन साइड माइक्रोमीटर :- किसी बेलनाकार खोखली वस्तु की अंदर की माप लेने के लिए इस प्रकार के मैपिंग टूल का प्रयोग किया जाता है।  इस माइक्रोमीटर में एक पतली छड़ लगाकर इसे जॉब के भीतर डाला जा सकता है।  जिसे हैंडिल कहते हैं।  इनसाइड माइक्रोमीटर द्वारा एक बार में 12 मिमी की सीमा में माप लिया जा सकता है। इससे  बड़ी माप लेने के लिए एक्सटेंसन रॉड का प्रयोग किया जा सकता है। यह एक्सटेंसन रॉड 50-75, 75-100 अर्थात 25 मिमी की अंतर् से होती है।