Hello and  welcome my dear friend आज मै आपको बताने वाला हूँ डीजल मैकेनिक कोर्स में प्रयोग में लाये जाने वाले खोलने एवं बाँधने वाले औजार के बारे में इससे पहले आप इस पोस्ट के बारे में जाने आपको बता दे की इससे पहले मैंने इसी के सम्बंध और भी पोस्ट लिखे है जिसमें मैंने आपको अलग अलग पोस्ट के माध्यम से इस खोलने एवं बाँधने वाले औजार के बारे में बताया है जैसे मेरे पोस्ट थे। खोलने एवं बाँधने वाले औजार पेचकस, प्लास, स्पैनर के बारे में बताया था और आज हम आपको बताने वाले हैं हैमर जिसे आम बोलचाल की भाषा में हथोड़ा कहा जाता है।

हैमर (हथोड़ा) क्या है?

किसी भी प्रकार के धातु एवं ऐसे चीज जिनको निकालने के लिए ज्यादा बल की आवश्यकता होती है तो उसके लिए इस प्रकार के टूल का उपयोग ज्यादा किया जाता है।  अर्थात किसी वस्तु को ठोकने मोड़ने या सीधा करने के लिए हैमर का प्रयोग किया जाता है।

हैमर को किस धातु से बनाया जाता है?

हथोड़े को कास्ट स्टील या कार्बन स्टील के बने होते हैं

हैमर कैसे दीखता है?

हैमर एक लोहे के टुकड़े होते है या इसे प्लास्टिक से बनाया जाता है कई जगहों पर यह लोहे का हथोड़ा काम नहीं आता है।  हथोड़े में हैंडिल लगा होता है।  जिसे बैच लगाकर टाइट कर देते हैं।  इससे क्या होता है हैंडिल से हथोड़े के हेड का निकलना इतना आसान नहीं होता है। और भय भी नहीं रहता है।
इस प्रकार ये हैमर का आकार और वजन उसके आकार पर निर्भर करता है। तथा इसके बड़े आकार को घन के नाम से भी जाना जाता है जिसका प्रयोग बड़े धातुओं को अन्य आकार में परिवर्तित करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

हैमर के मुख्य भाग कौन-कौन से हैं ?

  1. फेस 
  2. पोल 
  3. नैक 
  4. चीक 
  5. वैज 
  6. आई होल 
  7. पीन 
  8. हैण्डल 
अब यह उपयोगिता के अनुसार कई प्रकार के हो सकते हैं तथा इसके अलावा यह 250 ग्राम से 1 किलो या उससे ज्यादा के भी हो सकते हैं।

हैमर या हथौड़ा कितने प्रकार का होता है ?

हैमर को उनके कार्य के आधार पर निम्न प्रकारों में बांटा गया है -

  1. बाल पीन हैमर 
  2. क्रास पीन हैमर 
  3. स्ट्रेट हैमर 
  4. स्लेज हैमर 
  5. सॉफ्ट हैमर आदि इसके अलावा और भी हो सकते हैं। 
1. बाल पीन हैमर - इस प्रकार के हथौड़े का सबसे ज्यादा प्रयोग गैरेजो में या सामान्य काम करने वाले लोगों के द्धारा  किया जाता है. इस प्रकार के हैमर में एक ओर प्लेन होता है तो दूसरी ओर हथोड़े का भाग तीन चौथाई गोल टेपर होता है। या कहें बाल जैसेपिन बना  होता है इस कारण इसे बाल पीन हैमर के नाम से भी जाना जाता है.इसका प्रयोग रिपीट को ठोकने अथवा फैलाने के लिए किया जाता है।  यह बहुत ही उपयोगी औजार है जिसका प्रयोग किसी मशीन को खोलने एवं बाँधने के लिए किया जाता है।

2. क्रास पीन हैमर - इस प्रकार के क्रास पीन हैमर का उपयोग V आकार के ग्रूव बनाने में किया जाता है क्योकि इसके पीछे का भाग तो फेस होता जिसे प्लेन भी कहते हैं तथा दूसरी ओर क्रॉस के रूप हैंडिल के समकोण पर टेपर हुआ रहता है इसी कारण इसका प्रयोग V आकार के खांचे बनाने के लिए किया जा सकता है। इसका उपयोग चैनल बनाने के लिए भी किया जा सकता है।

3. स्ट्रेट पीन हैमर - यह हैमर लगभग क्रॉस पीन हैमर के समान होता है लेकिन इसका जो पीन होता है वह हैमर के हैंडिल  सीध में होता है। इसका प्रयोग क्रॉस पीन  हैमर के समान चैनल बनाने V ग्रूव बनाने तथा रिवेट को फैलाने आदि के लिए किया जाता है।

4. स्लेज हैमर - इस प्रकार के हैमर घन भी कहलाते हैं। इनका अधिकतर उपयोग ब्लैक स्मिथी के कार्यों में गोल रॉड स्मरिया एंगल आयरन चैनल या फ़्लैट आयरन को सीधा करने मोड़ने या काटने के लिए किया जाता है। इसका आकार डबल फेस हैमर के समान होता है।

5. सॉफ्ट हैमर - जिन जॉब में  हथोड़ों से चोट मारने पर उस पर निशान आने का भय रहता है। उन जॉबों के लिए नर्म या सॉफ्ट हैमर का प्रयोग किया जाता है।  यह हैमर लकड़ी, बैकलाइट, प्लास्टिक, पीतल , ताँबे , या एल्युमिनियम आदि नर्म धातुओं के बनाये जाते हैं।
Hammer

सारांश - इस पोस्ट में हमने जाना हैमर के बारे में तो यहां पर यह स्पस्ट हो जाता है की यह एक महत्वपूर्ण औजार है जिसका प्रयोग हम मशीन को खोलने एवं बाँधने के लिये करते हैं. इन प्रकारों के अलावा यह उपयोगकर्ता के अनुसार और भी प्रकार के हो सकते हैं. जैस की चिपिंग हैमर , लॉय हैमर आदि।

इन्हें भी देखें और जाने डीजल मैकेनिक कोर्स से रिलेटेड टॉपिक्स के बारे में -