ads

भूगोल के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर - पर्वत, पठार, झील, नदी।

भूगोल पृथ्वी की सतह और वातावरण का अध्ययन करता है। यह चीजों के सवालों का जवाब देता है कि चीजें वैसी क्यों हैं जैसी वे हैं। भूगोल एक शस्त्र है जिसमे हम पृथ्वी और इससे जुड़े वस्तु और जीवो का अध्ययन करते है।

भूगोल को प्राचीन काल से ही विकशित किया गया है। नाम अलग हो सकते है लेकिन भूगोल को आधुनिक रूप में लाना प्राचीन वैज्ञानिको का योगदान है। इसकी अलग पहचान यूनानियों द्वारा 2,000 साल पहले बनाई गई थी और इसका नामकरण किया गया था। अंग्रेजी में इसे जियोग्राफी कहा जाता है। जिसका जियो और ग्रेफिन का अर्थ "पृथ्वी लेखन" था। हालाँकि, जिसे अब भूगोल के रूप में जाना जाता है। 

भूगोल के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर 

हम आपके लिए भूगोल से जुड़े कुछ सामान्य परन्तु महत्वपूर्ण प्रश्नो के उत्तर लाये है। जो की निचे दिए गए है। आपको पसंद आये तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। भूगोल के सभी टॉपक के लिए इसे देखे। 

पर्वत किसे कहते है 

उत्तर - भूमि के बहुत ऊँचे तेज ढाल वाले बहग को पर्वत कहा जाता है। 

पठार किसे कहते है 

उत्तर - पृथ्वी के धरातल के उच्च व् सपाट भाग को पठार कहा जाता है। सामान्यतः पठार की उचाई लगभग 180 मिटेर से 915 मिटेर तक होती है। जैसे दक्षिण भारत का पठार। 

मैदान किसे कहते है 

भूमि के निचले समतल क्षेत्र मैदान कहलाते है। सामान्यता मैदान की उचाई 180 मिटेर से अधिक नहीं होती है। जैसे भारत में गागा का मैदान। 

पर्वत शिखर किसे कहते है 

पर्वत के सबसे ऊपर के नुकीले भाग को शिखर कहा जाता है। जैसे माउन्ट गोडविन, एवरेस्ट, ऑस्टिन आदि। 

सागर किसे कहते है 

पृथ्वी पर पाए जाने वाले विशाल खारे पानी के भंडार को सागर कहा जाता है। जैसे भू-मध्यसागर, अरब सागर। 

महासागर किसे कहते है 

पृथ्वी पर पाए जाने वाले सबसे बड़े खरे पानी के प्राकृतिक भंडार को महासागर कहा जाता है। जिसे प्रशांत महासागर, हिन्द महासागर आदि। ये लाखो वर्ग किलोमीटर तक फैले होते है। पृथ्वी पर पांच महासागर पाए जाते है। 

झील किसे कहा जाता है 

झील पानी के बहुत बड़े तालाब को झील कहा जाता है। यह प्रकितिक कारणों से बने होते है। तथा इसका आकार बहुत बड़ा हो सकता है। उदहारण के लिए तिब्बत का मानसरोवर झील। कैस्पियन सागर विश्व की सबसे बड़ी झील है।      

खाड़ी किसे कहते है 

समुद्र के उस भाग को कहा जाता है।  जो तीन ओर से स्थल से घिरा हो। जैसे बंगाल की खाड़ी। 

द्वीप किसे कहते है 

स्थल का वह भाग जो चारो ओर से पानी से घिरा होता है। 

जलप्रपात किसे कहते है 

उचाई से एकदम नीचे गिरती हुयी नदी की धरा जलप्राप्त कहलाती है। जैसे नियाग्रा उत्तरी अमेरिका में स्थित तथा विक्टोरिया जलप्रपात अफ्रीका। 

प्रायद्वीप क्या है 

स्थल  भाग जो तीन ओर से पानी से घिरा हो और एक ओर स्थल से घिरा हो उसे प्रायद्वीप कहा जाता है। जैसे दक्षिणी भारत का प्रायद्वीप। 

अंतरीप किसे कहते है 

स्थल  नुकीला भाग जो समुद्र में दूर तक चला गया हो। जैसे कुमारी अंतरीप। 

थल संयोजक किसे कहते है 

ऐसे तंग भू भाग जो दो बड़े भू भाग को जोड़ता है। थल सयोजक या थलडमरू कहलाता है। जैसे पनामा का थालसायोजक। 

जल सयोजक किसे कहते है 

जल का ऐसा भूभाग जो दो बड़े जल भाग को मिलाता है। जलसंयोजक कहलाता है। जैसे पाक जल सयोजक। 

बंदरगाह किसे कहते है। 

वह स्थान जहा जलयान ठहरते है। बंदरगाह कहलाते है जैसे मुंबई का बंदरगाह।   

प्रकाश स्तंभ क्या है 

प्रकाश के उस मीनार को कहते हैं जो जलयान चालकों को सावधान रखने के लिए बनाई जाती है प्रकाश के कारण जहाज समुद्री चट्टानों से टकराने से बच जाते हैं ।

नदी किसे कहते हैं 

मीठे पानी की वह प्राकृतिक धारा है जो किसी झील अथवा पर्वत से निकलकर किसी झील समुद्र या अन्य नदी में मिल जाए जैसे गंगा नदी।

सहायक नदी किसे कहते हैं 

वह छोटी नदी को कहते हैं जो किसी बड़ी नदी में मिल जाए जैसे यमुना गंगा की सहायक नदी है।

उद्गम किसे कहते हैं 

नदी के निकलने का स्थान उद्गम कहलाता है।

मुहाना किसे कहते हैं 

वह स्थान है जहां नदी समुद्र में गिरती है जैसे गंगा का मुहाना।

डेल्टा किसे कहते हैं 

समुद्र में नदी द्वारा बहा कर लाई गई मिट्टी से बनी हुई तिकोनी भूमि डेल्टा कहलाती है जैसे गंगा नदी का डेल्टा।

संगम किसे कहते हैं 

वह स्थान हैं जहां पर नदी दूसरी नदी से मिलती हो जैसे इलाहाबाद।

मरूभूमि किसे कहते हैं 

ऐसे क्षेत्र जहां चारों ओर दूर-दूर तक रे धीरे दिखाई देता हो मरुभूमि कहलाता है जैसे थार मरुभूमि पश्चिमी राजस्थान में स्थित है।

बरखान किसे कहते हैं 

मरुस्थल में पाए जाने वाले टीले जिनका एक किनारा अर्धचंद्राकार होता है उसे बरखान कहते हैं। 

ज्वालामुखी पर्वत किसे कहते हैं 

वह पर्वत जिससे लावा, आग और धुआं आदि निकलते हैं उसे ज्वालामुखी पर्वत कहते हैं जैसे स्ट्रांबोली पर्वत।

दलदल किसे कहते है 

पानी से उक्त भू भाग दलदल कहलाता है वह देखने में भू जैसी होती है पर अंदर से ठोस नहीं होती है। जैसे तराई का दलदल। 

भूगोल के बारे महत्वपूर्ण जानकारी 

भूगोल शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग इरेटोस्थनीज ने तीसरे शताब्दी ईसा पूर्व किया था।

भूगोल सबसे प्राचीनतम विज्ञान है जो कि यूनानी वैज्ञानिकों के कार्यों में हमें देखने को मिलता है इसको सर्वप्रथम विशिष्ट विज्ञान के रूप में मान्यता प्राचीन यूनानी विद्वान इरेटोस्थनीज ने दी थी।

भूगोल के संबंध में सबसे ज्यादा वैज्ञानिक हमें देने का श्रेया यूनान को जाता है जिन्होंने हमें होमर, डेरेटोड्स, थेल्स, अरस्तू, और इरेटोस्थनीज जैसी वैज्ञानिकों को हमें दिया।

भूगोल को 3 विभाग में बांटा गया है जो कि है गणितीय भूगोल, भौतिक भूगोल, मानव भूगोल।

पृथ्वी को 7 महाद्वीप में बांटा गया है जोकि हैं एशिया, यूरोप, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया अंटार्कटिका।

भूगोल में पांच महासागर में बांटा गया है जोकि हैं अटलांटिक महासागर, हिंद महासागर, प्रशांत महासागर, दक्षिण महासागर।

भूगोल का संबंध में प्राकृतिक विज्ञान और सामाजिक विज्ञान दोनों से है। इस प्रकार भूगोल के संबंध सभी विज्ञानों से है चाहे वह विज्ञान शुद्ध प्राकृतिक विज्ञान हो अथवा मानवीय सामाजिक विज्ञान हो।

गणितीय भूगोल के कारण ही में पृथ्वी के पृष्ठ पर उपस्थित बिंदुओं का त्रिविम स्थिति का निर्धारण संभव हो सका है।
भौतिक भूगोल धरातल पर अलग-अलग जगह घटनाओं के वितरण की व्याख्या व अध्ययन कराता है जैसे भूविज्ञान, मौसम विज्ञान, जंतु विज्ञान, रसायन शास्त्र, से जुडा है। 

मानव भूगोल मानव के क्रियाकलापों या मानव समाज के क्रियाकलापों के कारण बने भूगोल को मानव भूगोल कहा जाता है। पृथ्वी के आकार आकृति गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र पृष्ठभूमि या वो पृष्ठ बहुत बड़ी क्षेत्रों का निर्धारण भूगोल के द्वारा ही किया जाता है।

    उपसंहार

    किस प्रकार देखा जाए तो भूगोल ही सभी वैज्ञानिक संबंधी विषयों का उद्गम स्रोत है। और सभी विज्ञान का आरंभ इस भूगोल से हुए हैं।
    Related Posts
    Subscribe Our Newsletter