ads

विश्व पर्यटन दिवस - World Tourism Day in Hindi

विश्व पर्यटन दिवस की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं आज मैं इसी विषय पर आपसे बात करने वाला हूँ। 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है। इस पोस्ट में विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है। 

COVID-19 महामारी से पर्यटन क्षेत्र को बहुत नुकसान का सामना करना पड़ा है। इससे कोई भी देश अप्रभावित नहीं रहा है। यात्रा पर प्रतिबंध और उपभोक्ता मांग में अचानक गिरावट के कारण अंतरराष्ट्रीय पर्यटन संख्या में अभूतपूर्व गिरावट आई है, जिसके कारण आर्थिक नुकसान और नौकरियों का नुकसान हुआ है।

अनौपचारिक अर्थव्यवस्था में महिलाओं, युवाओं और श्रमिकों को महामारी के कारण पर्यटन क्षेत्र की नौकरी छूटने और व्यापार बंद होने का सबसे अधिक खतरा है। साथ ही, नौकरियों और आर्थिक विकास के लिए पर्यटन पर सबसे अधिक निर्भर गंतव्यों के सबसे कठिन होने की संभावना है।

इस विश्व पर्यटन दिवस पर, COVID-19 महामारी पर्यटन क्षेत्र के भविष्य पर पुनर्विचार करने के अवसर का प्रतिनिधित्व करती है, जिसमें यह भी शामिल है कि यह अपने सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक मूल्य के माध्यम से सतत विकास लक्ष्यों में कैसे योगदान देता है। 

पर्यटन अंततः लोगों को एक साथ लाकर और एकजुटता और विश्वास को बढ़ावा देकर महामारी से आगे बढ़ने में हमारी मदद कर सकता है - इस समय तत्काल आवश्यक वैश्विक सहयोग को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण तत्व हैं।

vishwa paryatan divas kab manaya jata hai  indian paryatan divas  rashtriya paryatan divas  paryatan divas 2019  bhartiya paryatan divas  bharat paryatan divas kab manaya jata hai  bhartiya paryatan divas in english  vishwa swasthya diwas kab manaya jata hai
विश्व पर्यटन दिवस

विश्व पर्यटन दिवस क्या है

पर्यटन के महत्व और हमारे समाज पर इसके प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है। यह दिन सतत विकास के लिए 2030 एजेंडा में उल्लिखित वैश्विक चुनौतियों के बारे में जागरूकता फैलाने और पर्यटन उद्योग द्वारा सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के प्रयासों को रेखांकित करने के लिए भी मनाया जाता है।

संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (UNWTO), पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए जिम्मेदार वैश्विक निकाय, 1980 से 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मना रहा है।

तारीख इसलिए चुनी गई क्योंकि इसी दिन UNWTO ने अपनी विधियों को अपनाया था। विधियों को वैश्विक पर्यटन क्षेत्र में मील का पत्थर माना जाता है।

2019 विश्व पर्यटन दिवस का विषय "पर्यटन और नौकरियां: सभी के लिए एक बेहतर भविष्य" था और यह कार्यक्रम नई दिल्ली में आयोजित किया गया था। UNWTO कार्यकारी परिषद की सिफारिशों पर UNWTO महासभा द्वारा विषयों का चयन किया जाता है।

UNWTO महासभा, अक्टूबर 1997 में तुर्की में, विश्व पर्यटन दिवस के उत्सव में संगठन के भागीदार के रूप में कार्य करने के लिए प्रत्येक वर्ष एक मेजबान देश को नामित करने का निर्णय लिया।

वैश्विक पर्यटन उद्योग

पर्यटन उद्योग आज दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते आर्थिक क्षेत्रों में से एक बन गया है। पिछले कुछ वर्षों में, पर्यटन उद्योग ने जबरदस्त विस्तार और विकास देखा है। पिछले कुछ दशकों में अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों के आगमन में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। 

यह अब 1950 में 25 मिलियन से बढ़कर 2019 में 1.3 बिलियन हो गया है। अर्जित राजस्व भी 1950 में $ 2 बिलियन से बढ़कर 2015 में $ 1,260 ट्रिलियन हो गया है। पर्यटन उद्योग का वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का 10% होने का अनुमान है और दस में से एक प्रदान करता है। विश्व स्तर पर नौकरियां। UNWTO को 2030 तक पर्यटन उद्योग में 3% की वार्षिक वृद्धि की उम्मीद है।

भारत में पर्यटन

भारत में, यह उद्योग 2018 में $240 बिलियन या भारत के सकल घरेलू उत्पाद का 9.2% होने का अनुमान है। यह उद्योग भारत में अनुमानित 42.6 मिलियन लोगों को रोजगार प्रदान करता है। पर्यटन मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, 2017 में 10.04 मिलियन विदेशी पर्यटक भारत पहुंचे।

विश्व पर्यटन संगठन

विश्व पर्यटन दिवस की शुरुआत संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन के द्वारा 1980 में हुई थी। इसकी सिफारिस एक नाइजीरिया राष्ट्र ने सबसे पहले यह कहा था की हर वर्ष 27 सितम्बर को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए। जिससे विश्व पर्यटन उधोग में बढ़ोतरी होगी और लोगो को पर्यटन के प्रति जागरूक किया जा सकता है।

उनके द्वारा इस प्रकार के अनुरोध को सहर्ष स्वीकार किया गया उनके योगदान को देखते हुए। 27 सितम्बर 1970 को UNWTO ने इस प्रकार के कानून को स्वीकार किया है।

इस विश्व पर्यटन दिवस को मनाने के लिए हर साल अलग-अलग देश को सहयोगी देश के रूप में चुना जाता है। इसका फैसला इस्तांबुल में हुए बारहवीं UNWTO 1997 के महासभा में लिया गया की एक देश को सहयोगी देश के रूप में हर साल चुना जाएगा। 

कुछ सहयोगी देश जिसे चुने जा चुके है उनके नाम और जिस वर्ष वे चुने गए थे उनका वर्ष मैने यहां पर लिखा है - 2006 यूरोप, 2007 साउथ एशिया, 2008 अमेरिका, 2009 अफ्रीका, 2011 में मध्य पूर्व क्षेत्र आदि।

विश्व पर्यटन दिवस की थीम

  1. 1980 सांस्कृतिक विरासत और शांति और आपसी समझ के संरक्षण के लिए पर्यटन का योगदान। 
  2. 1981  पर्यटन और जीवन की गुणवत्ता। 
  3.  1982  अच्छे मेहमान और अच्छे मेजबान। 
  4. 1984 अंतरराष्ट्रीय समझ, शांति और सहयोग के लिए पर्यटन। 
  5. 1985 युवा पर्यटन: शांति और दोस्ती के लिए सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत। 
  6. 1986 पर्यटन: विश्व शांति के लिए एक महत्वपूर्ण शक्ति1987 विकास के लिए पर्यटन। 
  7. 1988 पर्यटन: सभी के लिए शिक्षा। 
  8. 1989 पर्यटकों का मुक्त आवागमन एक दुनिया बनाता है। 
  9. 1990 पर्यटन: एक अपरिचित उद्योग, एक मुक्त सेवा। 
  10. 1991 संचार, सूचना और शिक्षा: पर्यटन विकास की शक्ति कारक। 
  11. 1992 पर्यटन: एक बढ़ती सामाजिक और आर्थिक एकजुटता का कारक है। 
  12. 1993 पर्यटन विकास और पर्यावरण संरक्षण: एक स्थायी सद्भाव की ओर। 
  13. 1994 गुणवत्ता वाले कर्मचारी, गुणवत्ता पर्यटन। 
  14. 1995 विश्व व्यापार संगठन: बीस साल से विश्व पर्यटन में सेवारत। 
  15. 1996 पर्यटन: सहिष्णुता और शांति का एक कारक। 
  16. 1997 पर्यटन: इक्कीसवीं सदी की रोजगार सृजन और पर्यावरण संरक्षण के लिए एक अग्रणी गतिविधि। 
  17. 1998 सार्वजनिक-निजी क्षेत्र भागीदारी: पर्यटन विकास और संवर्धन की कुंजी। 
  18. 1999 पर्यटन: विश्व धरोहर का नयी शताब्दी के लिये संरक्षण। 
  19. 2000 प्रौद्योगिकी और प्रकृति: इक्कीसवीं सदी के प्रारंभ में पर्यटन के लिए दो चुनौतियॉं। 
  20. 2001 पर्यटन: सभ्यताओं के बीच शांति और संवाद के लिए एक उपकरण। 
  21. 2002 पर्यावरण पर्यटन सतत विकास के लिए कुंजी। 
  22. 2003 पर्यटन: गरीबी उन्मूलन, रोजगार सृजन और सामाजिक सद्भाव के लिए एक प्रेरणा शक्ति। 
  23. 2004 खेल और पर्यटन: आपसी समझ वालो के लिये दो जीवित बल, संस्कृति और समाज का विकास। 
  24. 2005 यात्रा और परिवहन: जूल्स वर्ने की काल्पनिकता से 21 वीं सदी की वास्तविकता तक। 
  25. 2006 पर्यटन को समृद्ध बनाना। 
  26. 2007 पर्यटन महिलाओं के लिए दरवाजे खोलता है। 
  27. 2008 जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग की चुनौती का जवाब पर्यटन। 
  28. 2009 पर्यटन - विविधता का उत्सव। 
  29. 2010 पर्यटन और जैव विविधता2011 पर्यटन संस्कृति को जोड़ता है।
  30. 2012 पर्यटन और ऊर्जावान स्थिरता। 
  31. 2013 पर्यटन और जल: हमारे साझे भविष्य की रक्षा। 
  32. 2014 पर्यटन और सामुदायिक विकास। 
  33. 2015 लाखों पर्यटक, लाखों अवसर। 
  34.  2016  सभी के लिए पर्यटन - विश्वव्यापी पहुंच को बढ़ावा देना। 
  35. 2017 सतत पर्यटन - विकास का एक उपकरण। 
  36. 2018 पर्यटन और सांस्कृतिक संरक्षण। 
  37. 2019 पर्यटन और रोजगार: सभी के लिए एक बेहतर भविष्य। 
  38. 2020 पर्यटन और ग्रामीण विकास। 
Related Posts
Subscribe Our Newsletter