WHAT IS TAP IN DISEL MACHANIC

दोस्तों मुझे बहुत दिनों के बाद ये पोस्ट लिखने का मौका मिला है जिसमें मैं आपको बताने वाला हूँ डीजल मैकेनिक के द्वारा प्रयोग में लाये जाने वाले एक बहुत ही महत्वपूर्ण औजार टैप (Tap) के बारे में तो चलिये दोस्तों शुरू करते हैं-

Tap(टैप) क्या है? What is Tap

Tap एक प्रकार का कटिंग टूल है जिसके द्वारा cylindrical hols में चूड़ियां निकाली जाती है या खाच बनाई जाती है। इस प्रकार के चूड़ियां काटने को ही टैपिंग कहा जाता है।

Taping (टैपिंग) करने से पहले क्या करें?

Taping करने से पहले एक निश्चित साइज का होल ड्रिल मशीन के द्वारा बनाया जाता है तथा उसे रिमर द्वारा निर्मित किया जाता है तत्पश्चात उसमें टैप को चलाकर चूड़ियां काटी जाती हैं।




कैसे काटी जाती है चूड़ियां या टैपिंग कैसे किया जाता है?

Tap बनाने के लिए हाई कार्बन स्टील या हार्ड स्पीड स्टील को लैथ द्वारा चूड़ी की साईज में टर्न कर दिया जाता है तथा उस पर वांछित प्रकार की चूड़ियां काटी जाती है इसके पश्चात जॉब में कटिंग एज बनाने के लिए इन चूड़ियों को काटते हुए लम्बाई में खांचे बनाते हैं। अब इन्हें हार्ड व टैम्पर किया जाता है।

Tap के मुख्य भाग इस प्रकार से हैं
  1. Design
  2. शैक
  3. बॉडी
  4. खाँचे या फ्लूट
  5. लैण्ड
  6. कटिंग एड्ज
  7. हिल
Point और व्यास के आधार पर टैप के प्रकार
Tap के प्रकार

  1. Hand tap (हैण्ड टैप)
  2. Machine (मशीन टैप)
  • Hand tap क्या है?
हैण्ड टैप को हाँथ द्वारा चलाकर चूड़ियां काटी जाती हैं टैप को हाँथ द्वारा घुमाने के लिए हैंडिल का प्रयोग किया जाता है।
चूड़ियों की संख्या तथा पिच के अनुसार ये निम्नलिखित प्रकार के होते हैं
B.A.
B.S.F.
B.S.W.
American
Tap प्रायः तीन सैट में आते हैं। जिनमें पहला टैप,
टेपर टैप कहलाता है।
चूड़ियां काटना इसी से प्रारम्भ की जाती हैं।
दूसरा टैप,




मीडियम या इंटरमीडिएट tap कहलाता है।
वास्तव में यहीं टैप चूड़ी काटता है।
तीसरा टैप, प्लग टैप कहलाता है।
यह टैप चूड़ियों को साफ करके सही आकार प्रदान करता है।
चूड़ी काटते समय टैप को आगे पीछे घुमाते रहना चाहिए तथा लुब्रिकेशन का ध्यान रखना चाहिए।

1.) टेपर टैप(Teper tap)
हाँथ द्वारा चूड़ी काटते समय यह सबसे पहला टैप है। अंत में कुछ दांते घिस कर टैपर कर दिया जाता है। इसकी टैपर लिड 4° होती है। इसके अंत के व्यास को पॉइंट व्यास कहते हैं यह उस होल की व्यास छोटा होता है। जिसमें चूड़ियां काटनी हैं आसानी से यह होल में जाकर चूड़ियाँ काट सकता है। चूड़ियाँ काटने के बाद टैप को उल्टा घुमाकर बाहर निकाल लिया जाता है।
इस टैप को चलाने के बाद दूसरे और तीसरे टैप को चलाया जाता है।

2.) इन्टरमीडिएट टैप(INTERMEDIATE TAP)
इसे सेकण्ड टैप भी कहा जाता है इसका प्रयोग टेपर टैप के बाद किया जाता है। इसमें केवल 3 से 5 चूड़ी आगे की ओर टेपर बना होता है। इसकी टेपर लिड 10' होती है। यह टैप सहीं आकार में चूड़ियां बनाता है। परन्तु Blink होल में आगे की चूड़ी की साइज सहीं नहीं बन पाता इसलिए इसके बाद तीसरा टैप (बॉटम टैप ) को चलाया जाता है।

3.) बॉटम टैप (Bottum Tap or Finising Tap)
इसे प्लग टैप भी कहा जाता है बॉटम टैप का भी आगे का एक दो चूड़ी ही टेपर रहता है इसका प्रयोग हम दूसरा टैप (इंटरमीडिएट टैप) को चलाने के बाद करते हैं बॉटम टैप को Blink होल में चलाया जाता है। इसकी टेपर लीड 20' होती है। इस छिद्र की तली पर चूड़ी बना होता है।
  • मशीन टैप (Machine Tap)
मशीन टैप का प्रयोग ड्रिल मशीन द्वारा किये गए होल में चूड़ी काटने के लिए किया जाता है। मशीन टैप का प्रयोग एक विशेष प्रकार के होल्डर में पकड़ कर किया जाता है। ड्रिल मशीन में उल्टी चाल व्यवस्था के कारण मशीन टैप को जॉब से सरलता से बाहर निकाला का सकता है। 

इन्हें भी पढ़ें 

Related Posts



Subscribe Our Newsletter