जब से human को सोचने समझने की शक्ति मिला है। तब से अकास sky के बारे में जानने की इच्छा रही है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते बढ़ते कई scientist ने ब्रम्हांड के अनेक राज खोले है।

  दिन और रात क्यों होता है?

जब हमे मालुम नहीं था कि पृथ्वी earth सूर्य की round marta है। तो हम यही मानते थे कि सूर्य sun पृथ्वी का चक्कर लगाता होगा है। लेकिन यह बात सही नहीं है, scientists ने पता लगाया कि earth सूर्य की परिक्रमा लगाता है। उसी कारण day and night  होता है। साथ ही 24 hour में earth अपना चकरा लगता है, जिस तरफ sun light पृथ्वी पर पड़ता है वह day होता है उसके पीछे की ओर night होता है। इसी कारण कहीं day होता है तो कहीं night ।



 चांद ग्रहण और सूर्य ग्रहण क्यों होता है?

ये Question हमारे में में होता है कि Surya ग्रहण क्यों होता है कारण क्या है, तो इस सवाल का जवाब जानते है Moon Eclipse kise hota hai - जब sun और moon के बीच में earth आती है तो उसकी परछाई moon पर पड़ती है उसे ही चन्द्र ग्रहण कहते है।

सूर्य ग्रहण किसे कहते है - सूर्य और पृथ्वी के बीच में चांद के आने से सूर्य का कुछ भाग छीप जता है तो उसे ही सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

 सूर्य और पृथ्वी की दुरी कितनी है ?





Sun की बात करे तो हमारे सौर मंडल का मात्र तारा है जो हमरे Earth को रौशन करता है क्या आपको पता है की sun के lite को धरती पहुंचने के लिए करीबन 8 minit और 16.6 second का time लगता है।
Sun से पृथ्वी की औसत distance करीबन 14,96,00,000 k.m यानि 9,29,60,000 मील है तथा जो earth से लगभग 109 गुना अधिक है। sun पृथ्वी की दूर इतना होने बाउजूद sun का lite मात्र 8 मिनिट में पहुंच जाता है.


पृथ्वी का क्षेत्रफल कितना है ?

पृथ्वी के सतह का क्षेत्रफल काफी विशाल है वैज्ञानिकों के अनुसार पृथ्वी के सतह का क्षेत्रफल 510,100,000 km² है। 





पृथ्वी की आयु कितनी है। 

उत्पत्ति हुई है उसका अंत अवश्य होगा अतः earth का भी एक आयु आंकी गई है। यह कई लखो years से ब्रम्हांड पर sun ka rounds laga रहा है। वैज्ञानिकों का मानना है कि सभी ग्रह और तारे की एक आयु होती है तथा उसके बाद वह समाप्त हो जाता है। पृथ्वी की आयु लगभग 4.5 अरब वर्ष है।

पृथ्वी का एक मात्र प्राकृतिक उपग्रह है

चांद पृथ्वी का मात्र एक प्राकृतिक ग्रह है यह पृथ्वी से अलग हो गया था पृथ्वी का चक्कर लगाने लगा यह पृथ्वी की Gravity को बहुत प्रभावित करता है। Moon  कारण ही समुद्र में ज्वार भटा आता है।

Earth पर कई बड़े महासागर है इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि जल की पृथ्वी पर काफी अधिक मात्र में है। लेकिन सभी मीठे जल नहीं है अर्थात्  पीने और सिंचाई योग्य नहीं है। पृथ्वी पर 71% भाग जल से घिरा हुआ है और 29% भाग स्थल से धिरा है।