फाइलिंग (Filing) क्या है ?

साथीयों आप सभी का फिर से एक बार मैं स्वागत करता हूँ मेरे ब्लॉग Rexgin.in पर आज मैं आपके लिए डीजल मैकेनिक कोर्स में प्रयोग होने वाले एक उपयोगी Cutting Tool के प्रयोग को लेकर आया हूँ जिसको file (रेती) कहते हैं इसका प्रयोग किस प्रकार से करना है उसके बारे में इस पोस्ट में लिख रहा हूँ -
तो चलिए शुरू करता हूँ -



फाइलिंग क्या है ?

फाइल के साथ काम करना ही या फाइल का प्रयोग करते हुए किसी जॉब ( वस्तु ) जो की लोहे का या कार्बन का बना हो उसे काटना या घिसना फाइलिंग कहलाता है।

इसका प्रयोग हम किसी जॉब में से अतिरिक्त पदार्थ को निकालने के लिए करते हैं। इस प्रकार रगड़ कर निकालने की क्रिया फाइलिंग कहलाती है। फाइलिंग करने के लिए छोटे जॉब को किसी वाइस से पकड़ा जाता है और फाइलिंग के लिए वाइस का प्रयोग कोई आवश्यक नहीं है इससे बड़े जॉब को बिना पकड़े भी फाइलिंग किया जा सकता है।
लेकिन दोस्तों फाइलिंग करते समय बहुत सारे सावधानी रखने की आवश्यकता होती है। क्योकि अगर सावधानी से कार्य ना किया जाये तो इससे चोट लग सकता है तो हम यहां पर इसी फाइलिंग के बारे में बात करने के लिए ये पोस्ट लिख रहे हैं जो की इस प्रकार है -

फाइलिंग करते समय रखी जाने वाली सावधानियाँ -


  • 1. सबसे पहले हमें जॉब या वस्तु पर मार्किंग कर लेनी चाहिए ताकि जॉब खराब ना हो।
  • 2. जॉब को किसी वाइस पर कश्ते है तो जॉब का लगभग 4 mm भाग या उससे थोड़ा ज्यादा भाग वाइस के पकड़ से बाहर निकलना होना चाहिए। ताकि घसने में आसानी हो।
  • 3. जॉब को वाइस में कस्ते है तो उस वाइस की उचाई या वाइस को ऐसे उचाई पर रखना चाहिए की वह कुहनी के ऊपर हो।
  • 4. जॉब की धातु व आकार के अनुसार फाइल का चयन करना चाहीये
  • 5. फाइलिंग करने से पहले आपको अपने बायां पैर आगे व दायां पैर पीछे रखना चाहिए या फीर अपने हिसाब से ठीक से खड़ा होने के बाद ही फाइलिंग करना चाहिए। और दोनों पैर के बीच 30 से. मी. का गेप (GAP) होना चाहिए।
  • 6. फाइल को बाएं हाँथ से पकड़ के रखना चाहिए और आगे ले जाते वक्त दबाना चाहिए तथा पीछे लाते समय हल्के से दबाना चाहिए। क्योकि आगे ही ज्यादा कटिंग होता है। 
  • 7. फाइल को जॉब पर इस प्रकार चलाना है की जॉब में समतल सतह बन सके।
  • 8. समतल सतह की जांच ट्राई स्क्वायर से करना चाहिए। यह जांच समय समय पर करता रहना चाहिए।
  • 9. जहाँ तक सम्भव हो हमें फाईल के पूरी लम्बाइ का प्रयोग करना चाहिये। इससे क्या होगा आपका कार्य जल्दी से पूर्ण होगा।
  • 10. समय - समय पर फाइल का पिनिंग दोष दूर करते रहना चाहिए।
  • 11. फाइलिंग करते समय सावधानी के लिए हांथ में ग्लब्स लगा लेना चाहिए ।
  • 12. फाइलिंग नाप ले ले के करना चाहिए । (नापने वाले औजार)
  • 13. सही नाप के साथ ही फाइलिंग करना चाहिए ताकि आपका जॉब ठीक से फिट हो सके ।
साथियों इसी प्रकार के अन्य पोस्ट हम अपने ब्लोग में डालते रहते है इनके कुछ लिंक मैंने यहां नीचे दिया है ।


फाइलिंग करते समय क्या-क्या सावधानी रखनी चाहिए। इसे अगले पोस्ट में पढ़ें जी।