Monday, January 21, 2019

भूपेश बघेल का आगमन महासमुंद में

मित्र आपका स्वागत है मेरे इस ब्लॉग पर एक बार फिर से धन्यवाद मेरे ब्लॉग पर आने के लिए, मेरे लेख को पढ़ने के लिए।



आज मैं बात कर रहा हूँ हमारे current CM माननीय भूपेश बघेल जी के बारे में जो की आज दिनांक 20/01/2019 को महासमुंद जिले में आये हुए थे। उनके आने   के उपलक्ष्य में यहां पर बहुत सारी सुविधाये उपलब्ध कराई गयी थीं। उनके चाहने वालो के लिये यहां पर भोजन की व्यवस्था भी की गयी थी मैं तो पूरे कार्यक्रम में नहीं था लेकिन जिस समय से वहां पर रुका था उसी समय की बात को आपको बता रहा हूँ।

भूपेश बघेल का आगमन महासमुंद में

सबसे पहले आपको उस जगह का नाम बता देता हूँ जहां पर उस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम का आयोजन चन्द्रनाहू शिक्षण समिति के प्रांगण में या कहें उसके मैदान में किया गया था जो की बागबाहरा रोड पर है। आप चाहे तो उसे Google map में भी देख सकते हैं। इस जगह पर अभी से नहीं बल्कि अनेक सालों से शिक्षण का कार्यक्रम चनद्रनाहूँ शिक्षण समिति द्वारा चलाया जा रहा है। जो की कक्षा पहली से लेकर बारहवी तक छत्तीसगढ़ स्कूल के नाम से संचालित है और यहॉं पर कॉलेज भी है जो की शांत्रीबाई कला ,वाणिज्य एवं विज्ञान महाविद्यालय के नाम से जाना जाता है जिसकी अलग ही पहचान है। आप चाहें तो इसके बारे में भी जान सकते हैं मैंने इसके बारे में भी लिखा है।


bhupesh Baghel

अब बात करते हैं की यहां पर क्या हुआ जब मैं वहां पर पहुंचा, पूरा मैदान भीड़ से लबा लब भरा था और वहाँ सामने हमारे CM माननीय भूपेश बघेल जी (2018-19) भाषण दे रहे थे।
किसान की कर्ज माफी के बारे में वे कह रहे थे की कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ मे सबसे ज्यादा मूल्य में धान खरीदने वाली सरकार है।

किसान के कर्ज माफी के विषय में कह रहे थे कांग्रेस सरकार के छत्तीसगढ़ में सत्ता में आते ही उसने किसानों के कर्जे माफ़ करना शुरू कर दिया।

वे चर्चा कर रहे थे किसानों के ऊपर उनका जो बात है मुझे अच्छा लगा क्योकि वे आज की ज्वलन्त समस्या पर बात कर रहे थे आज पशुपालन किसान के लिए ही नहीं बल्कि सभी के लिए दूभर हो गया है आज हर कोई ये नहीं करना चाहता और वह गायों तथा बछड़ों को खुला छोड़ देते हैं जिससे किसान भी परेसान तो होते हैं लेकिन खुद भी इसके जिम्मेदार हैं।

पशुपालन के लिए वे एक योजना पर बोले वह योजना यह थी की आप यदि पशुपालन करना चाहते हैं तो सरकार आपको मदद करेगी वो कैसे आप जब फसल कमा लेते हैं तो उस फसल के अपसिस्ट को आग लगा देते हैं लेकिन अब सरकार ऐसे करने से रोकने के लिए एक योजना बना रही है जिसमें आपको अपने खेत में उपस्थित अपशिष्ट पदार्थ को पशुओं के चारा के रूप में एक योजना के तहत एकत्रित कराया जाएगा और इसके पैसे सरकार वहन करेगी। तो इससे होगा क्या कई बेरोजगार को रोजगार मिलेगा और यह काम रोजगार गारन्टी के समान ही होगा। जिसमें चारे को एकत्रित किया जायेगा।


इससे क्या होगा अब आपको सड़कों में जानवरों की संख्या में कमी देखने को मिलेगी साथ ही साथ आपको एक दिन ऐसा भी आएगा की आप सड़क पर एक भी जानवर खुले घूमते हुए नहीं देख पाएंगे।
और चरवाहों को सम्मान भी मिलेगा। इस योजना से क्योकि आप हर समय तो पशुओं को बांध कर नहीं रख सकते ना। अब जगह नहीं है चराने के लिए तो वो बात अलग है।

इससे और क्या क्या लाभ होगा ?

1. इसकी लागू करने से सड़कों पर जानवरों का भीड़ कम हो जायेगा जिससे दुर्घटना कम हो जायेगा।2. दूसरी बात लोगों को इससे जैविक खाद भी प्राप्त होगा।
3. ईंधन के रूप में Bio gass मिल जायेगा।
4. रोजगार के रूप में आप दूध को बेच सकते हैं।
5. LPG गैस की आवश्यकता खत्म।
6. यूरिया के जगह जैविक खाद।


इससे और भी अनेक लाभ है।


अब इस योजना के बाद उन्होंने बात की शराब बंदी की उन्होंने ने भी कहा शराब किसी भी इंसान को बर्बाद कर देता है और शराब ही इसका कारण है आज की बर्बादी का इसे बन्द करना बहुत जरुरी है अगर इसे बन्द नहीं किया गया तो काफी देर हो जायेगी। इसलिए इसे बन्द करने के लिए मैं एक समिति गठित करूँगा जिसमें मैं अपने चुने हुए अधिकारियों नेताओं से सर्वे कराऊंगा की शराब को बन्द किया जाये या नहीं तब फिर उसके बाद निर्णय लिया जायेगा। की क्या करना है। मैं चाहूँ तो शराब को आज अभी बंद करा दूँ लेकिन क्या मैं पीने वाले को रोक सकता हूँ नहीं, उन्होंने कहा। इसको रोकने के लिए समाज को भी आगे आना होगा। समाज के पदाधिकारीयों को भी इसे रोकने में मदद करना होगा। शराब तो बंद हो जायेगा लेकिन इससे एक और समस्या उत्पन्न होगी वो है घर-घर में शराब का बनाया जाना और छोटी छोटी शराब की तस्करी करना।

तो इसे रोकने के लिए सरकार को आपके मदद की आवश्यकता है इसे बिना आपके मदद के कोई नहीं रोक सकता आज रोक दिए तो फिर कल चालू हो जायेगा शराब का चोरी छुपके बनना तो इसके लिए समाज में रहकर इससे लड़ना पड़ेगा।
इसके बाद उन्होंने कहा शराब के रोकने के प्रति अगर ज्यादा रिस्पांस आता है तो हम अगले आने वाले साल में पूर्ण रूप से बंद कर देंगे।




शराब बंदी के बाद उन्होंने राहुल गांधी के रायपुर आने की बात कही और कहा आप सभी उस कार्यक्रम में आमन्त्रित हैं। उसी दिन किसानों के कर्ज माफी के प्रमाणपत्र भी वितरित किये जाएंगे।
उन्होंने किसानों द्वारा किसान समितियों द्वारा मुख्यमंत्री सहायता कोश में दान करने वालों का धन्यवाद ज्ञापित किया और फिर अपने सहायता कोश के बारे में उन्होंने कहा इस कोश के पैसे का उपयोग उन जरूरत मन्द विद्यार्थियों के लिए किया जाता है उन जरूरत मंद लोगों के लिए किया जाता है जिनको इसकी आवश्यकता होती है।

एक बार फिर उन्होंने धन्यवाद ज्ञापित किया और फिर वाणी को विराम दिया।
आपको ये जानकारी कैसे लगी मेरे साथ जरूर शेयर करें अगर आप इसी तरह की और जानकारी चाहते हैं तो कमेंट करके एक बार जरूर बताएं।
आपका मित्र,आपका साथी,आपका दोस्त ।

4 comments:

  1. mast hai 👌🏼👌🏼👌🏼👌🏼

    ReplyDelete
    Replies
    1. Aapka bahut bahut dhanyavad hamara utsah isi prakar badhate rahe,,��

      Delete
  2. Replies
    1. Thanks for emoji comments...
      And i thik you will come back again..

      Delete

Thanks for tip