PH meter in Hindi। PH मीटर क्या है और इसका उपयोग कैसे करते है

प्रश्न 1. PH मीटर क्या है ? 
उत्तर = PH मीटर एक वैज्ञानिक उपकरण है जो water-based हाइड्रोजन-आयन गतिविधि को मापता है, जो ph के रूप में व्यक्त की गई अम्ल या क्षार को बताता है।

प्रश्न 2. इसका प्रयोग किस क्षेत्र में किया जाता है ?
उत्तर = इसका प्रयोग विज्ञान के क्षेत्र में किया जाता है।

प्रश्न 3. PH मीटर का प्रयोग क्यों किया जाता है ?
उत्तर = इसका प्रयोग किसी विलयन की अम्लीयता तथा क्षारीयता ज्ञात करने के लिए किया जाता है।

प्रश्न 4. इसकी खोज किसने की और किस सन में की ?
उत्तर = इसकी खोज सोरेन्सन ने की थी। सन 1909 में।

प्रश्न 5. कैसे पता करते हैं की कोई पदार्थ अम्लीय है की क्षारीय ?
उत्तर = जब हम PH मीटर का प्रयोग करते हैं तो उसमे 14 अंक होते हैं। जब PH मान 7 आता है तो वह उदासीन है तथा जब PH मान 7 से अधिक आता है तो उसे क्षारीय और 7 से कम आने पर अम्लीय होते है जैसे जैसे अम्लीयता बढ़ती तथा घटती जाती है PH मान भी बढ़ता घटता रहता है।

प्रश्न 5. ph मीटर का उपयोग कैसे करते है?
उत्तर = ph मीटर का उपयोग लैब में किया जाता है। ph दो प्रकार के होते है एसिड होता है और अल्कलिन होता है। सबसे पहले ph मशीन को ऑन करे उसके बाद मशीन मे ph बटन होता है उसे क्लीक करने के बाद मशीन में इलेक्टोड वायर से जुड़ा होता है उसे हम जिस पदार्थ का ph माप निकलना है उस पर रखा जाता है। उसके बाद इंटर बटन को दबाते है। 10 सेकंड के बाद डिस्प्ले में ph मान दिखयी देता है।

pH ( हाइड्रोजन आयन सांद्रण ) पर टिप्पणी इस प्रकार लिखा जा सकता है-
pH किसी विलयन की अम्लीयता क्षारीयता मापने का पैमाना है। इसकी खोज सोरेन्सन नामक वैज्ञानिक ने सन् 1909 में की थी। कोशिकाओं के प्रोतोप्लाजम में H+ एवं OH- आयन्स पाये जाते है। यदि किसी विलयन में H+ आयन अधिक तथा OH- आयन कम हो तो वह विलयन अम्लीय कहलाता है।

अन्य पोस्ट
robot in hindi - रोबोट