Oil sump full detail hindi me

सबसे पहले आपको को इसके बारे में कुछ बाते बता देता हूँ की ये क्या है और ये कहाँ पर पाया जाता है। जैसे कि आप जानते है की हर पेट्रोल या डीजल इंजन को लुब्रिकेशन की जरूरत होती ही है और इस लुब्रिकेशन के कारण ही इंजन अच्छे से गति करता है। यह एक प्रकार का ऑयल कंटेनर है जिसमें ऑयल जमा होता है। इस कारण इसे ऑयल सम्प कहा जाता है। 

ऑयल सम्प होता क्या है?

ऑयल सम्प किसी भी इंजन का वह भाग या कन्टेनर होता है जिसमें ऑयल पाया जाता है और यह ऑयल को इंजन के बन्द होने के बाद संग्रहित करके रखता है।

क्यो जरूरी है ?

आपको बता दूँ की इंजन को लुब्रिकेशन बहुत ही जरूरी है क्योकि इसके बिना अधिक घर्षण होता है और इंजन को जल्दी नुकशान हो जाता है। इसी लुब्रिकेशन के लिए ऑयल की आवश्यकता होती है। जिसे स्टोर करने के लिए ऑयल सम्प का प्रयोग किया जाता है। यह किसी प्रकार के इंजन में नीचे की तरफ ही होता है क्योकि जब इंजन स्टार्ट होता है तो ये इंजन के घर्षण करने वाले पार्ट में पम्प के माध्य से इन तक पहुचाया जाता है। जिससे की घर्षण कम हो और इंजन अधिक दिन तक चले।

इंजन के सबसे नीचे क्यों लगाया जाता है?

इसे सिलेंडर के नीचे वाले भाग को बन्द तथा इंजन के अन्य भागों जैसे क्रैंक शाफ्ट इत्यादि को नीचे से धूल मिट्टी आदि से बचाने के लिए ऑयल सम्प इंजन में सबसे नीचे लगाया जाता है।
इंजन के लिए लुब्रिकेशन ऑयल इस सम्प में भरा होता है। इस कारण इसे ऑयल चेम्बर भी कहा जाता है। यह माइल्ड स्टील चादर या एल्युमिनियम के चादर का बना होता है। इस प्रेस करके मशीन द्वारा बनाया जाता है। जिन इंजनों में बिग एंड बेयरिंग लुब्रिकेशन के लिए उनके साथ ऑयल डिपर लगे होते हैं उनमें सिलेंडर की संख्या के बराबर खुली नलियां बनी होती है। कुछ इंजनों में सिलेंडर के आधार पर अलग अलग खांने बने होते हैं।

       तो दोस्तों ये प्रस्तुत थी आपके सामने ऑयल सम्प के बारे में छोटी सी जानकारी।

thanks so much for supporting me

Related Posts

Subscribe Our Newsletter