ओडिशा के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

उड़ीशा के बारे में भारत के पूर्व दिशा में बसे ओडिशा राज्य बहुत ही सुन्दर है पूर्व में बंगाल की खाड़ी उत्तर में झारखण्ड पश्चिम में छत्तीसगढ़ और दक्षिण में आंध्रप्रदेश से घिरा हुआ है। क्षेत्रफल के अनुसार ओड़िशा भारत का नौवां और जनसंख्या के हिसाब से ग्यारहवां सबसे बड़ा राज्य है। प्राचीन काल से मध्यकाल तक ओडिशा राज्य को कलिंग नाम से जाना जाता था। ओडिशा की राजधानी भुनेश्वर है, क्षेत्रफल की बात करे तो 155,707 किमी² है। यहाँ पर 30 जिले है राजभाषा उड़िया है। official वेबसाइट www.odisha.gov.in है। ओडिशा के सम्बलपुर के पास महानदी पर हीराकुंड बांध सबसे बड़ा मिट्टी का बांध है। 


उड़ीशा के बारे में


पर्यटन स्थल ओडिशा 

अब अगर पर्यटन स्थल की बात करें तो यहाँ पर पर्यटन स्थल का खूबसूरत नजारा देखने को मिलता है। सूर्य मंदिर जो की कोणार्क में स्थित है बहुत हि प्रसिद्ध स्थान है। लिंगाराज मन्दिर भुवनेश्वर में स्थित है। इसके अलावा और भी बहुत सारे पर्यटन स्थल हैं जो की अपनी मनोरम झांकी प्रस्तुत करते हैं। जैसे -  सुन्दरपुरी तट, गाहिरमाथा, उदयगिरी, खण्डगीरी प्राचीन गुफा , हीराकुण्ड बॉंध, पुरी का जगन्नाथ मन्दिर , दुदुमा जल प्रपात , तप्तापानी , भीमकुण्ड, कपिलाश, धौली बौद्ध मन्दिर प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों के नाम हैं। यहाँ पर कई हिंदी फिल्मो का चित्रण किया गया है जैसे अशोका फिल्म का बहुत बड़ा भाग यहाँ शूट किया गया था। अब इसके अभ्यारण की बात करें तो यहां पर निम्न अभ्यारण्य आपको देखने को मिलेंगे। नंदनकानन जहां पर सफेद बाघ पाया जाता है। सिमलीपाल जो टाइगर रिजर्व अभ्यारण्य है। भितरकनिका में मगरमच्छ पाया जाता है। इसके अलावा और अनेक अभ्यारण्य हैं जो की निम्न नामो से जाने जाते हैं- कपिलेश वन्य जीव, सतकोसिया जॉर्ज प्राणी, चिल्का, कार्लपट वन्य जीव, उषाकोठी वन्यजीव आदि प्रमुख अभ्यारण्य हैं। 



ओडिशा का इतिहास

 जिस पर 261 ईसा पूर्व में मौर्य सम्राट अशोक ने आक्रमण किया था यह उसी प्राचीन राष्ट्र कलिंग का आधुनिक नाम है ओडिशा। युद्ध में हुये भयानक रक्तपात हुआ था। आधुनिक ओड़िशा राज्य की स्थापना 1 अप्रैल 1936 को भारत के एक राज्य के रूप में हुई थी इसी कारण राज्य में 1 अप्रैल को ओड़िशा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस नये राज्य के अधिकांश नागरिक ओड़िआ भाषी है। ओड़िशा में तीव्र चक्रवात आते रहते हैं और सबसे तीव्र चक्रवात 1 अक्टूबर 1999 को आया था, जिसके कारण जानमाल का काफी नुकसान हुआ और लगभग 10000 लोग मृत्यु का शिकार बन गये।


अशोक सम्राट के मृत्यु के उपरांत मौर्य साम्राज्य की स्थापना हुआ यह कुछ ही दिनों तक राज कर सके। 180 ईसापूर्व कलिंग पर चेदि वंश का अधिकार हो गया इसके बाद मठार वंश ने यहाँ राज किया। 500 ईसापूर्व नल वंश का सहन काल आया इन्होंने भगवान विष्णु की पूजा का प्रसार प्रचार किया। विष्णुपूजक स्कन्दवर्मन ने ओडिशा में पोडागोड़ा स्थान पर विष्णुविहार का निर्माण करवाया। 6वीं-7वींशताब्दी मेंओडिशा राज्य में स्थापत्य कला के लिए उत्कृष्ट मानी गयी। चूँकि इस सदी के दौरान राजाओं ने समय-समय पर स्वर्णाजलेश्वर, रामेश्वर, लक्ष्मणेश्वर, भरतेश्वर व शत्रुघनेश्वर मन्दिरों का निर्माण करवाया। 18वीं सदी में ईस्ट इण्डिया कम्पनी का सम्पूर्ण भारत पर अधिकार हो गया था भारत देश के स्वतन्त्रा के बाद। सम्पूर्ण भारत को कई राज्यों में विभक्त हो गया। 


महत्वपूर्ण तथ्य


  1. ओडिशा का राजकीय पशु सांवर हिरण है।
  2. इस प्रदेश का राजकीय पक्षी ' इण्डियन रोलर ' है।
  3. इस राज्य का राजकीय पुष्प अशोक है।
  4. इस प्रदेश का राजकीय वृक्ष पीपल है।
  5. राज्य का राजकीय सरीसृप खारे पानी का मगरमच्छ है।
  6. राजकीय मुहर कोणार्क सन टैण्डर का प्रतिनिधित्व करता है।
  7. ओडीशा का सर्वाधिक सुखा ग्रस्त जिला कालाहाडी है।
  8. ओडीशा के कालाहाडी को भारत का इरीट्रिया कहा जाता है।
  9. गाहिरमाथा कछुआ के प्रजनन के लिए प्रसिद्ध क्षेत्र है।
  10. पाराद्वीप बन्दरगाह से तालचेर का कोयला निर्यात किया जाता है।
  11. ओडिशा के बालेश्वर के पूर्वी तट पर चाँदीपुर प्रक्षेपण केंद्र स्थित है।
  12. मचकुण्ड जलाशय सिलेरु नदी पर बना जलाशय है।
  13. सिमलीपाल जैव मण्डलीय क्षेत्र की स्थापना वर्ष 1994 में हुई थी।
  14. व्हीलर द्वीप केन्द्रपाड़ा जिले में स्थित हैं।
  15. ओडिशा में महानदी पर बना ' हीराकुण्ड ' जलाशय विश्व का सबसे लम्बा जलाशय है।
  16. ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर को मन्दिरों के कारण ' The cathedral city of india ' के नाम से जाना जाता है।
  17. भुवनेश्वर में विश्व का एकमात्र सफेद बाघ सफारी अभ्यारण्य स्थापित किया गया है।


ओडिशा एक झलक में 


  • यह अक्षांश में 17°4' उत्तर से 22°3' उत्तर पर स्थित है।
  • इसके देशान्तर की बारे में यह 82°2' पूर्व से 87°2' पूर्व में स्थित है।
  • इस राज्य कि स्थापना वर्ष 5 अगस्त , 1947 है।
  • इस राज्य का क्षेत्रफल 155707 वर्ग किमी है।
  • इस राज्य की जनसंख्या 41974218 है वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार।
  • ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर है।
  • ओडिशा का उच्च न्यायालय कटक में स्थित है।
  • ओडिशा राज्य की भाषा ओड़िया ही है।
  • लिंगानुपात 978 है। 2011 के अनुसार।
  • साक्षरता दर 72.8 % है 2011 के अनुसार।
  • ओडिशा के कुल जिले की संख्या 30 है वर्ष 2011 के अनुसार।
  • यहां के मुख्यमंत्री श्री मान नवीन पटनायक हैं।


Related Posts

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter